लखनऊ, जेएनएन। Om Prakash Rajbhar Vs Anil Rajbhar: सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर बेहद चर्चा में बने रहते हैं। योगी आदित्यनाथ सरकार के पहले कार्यकाल में कैबिनेट मंत्री रहे राजभर ने इस्तीफा दिया और फिर विधानसभा चुनाव 2022 में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर छह सीट जीतीं। अब फिर से भाजपा के करीब आने के प्रयास में लगे हैं।

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया ओम प्रकाश राजभर को लेकर भारतीय जनता के नेता ही एकमत नहीं हैं। बलिया में बुधवार को ओम प्रकाश राजभर को जहां प्रदेश के डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने भाजपा का स्थाई मित्र बताया था, वहीं श्रम एवं सेवायोजन मंत्री अनिल राजभर उनको भरोसा करने लायक ही नहीं मानते हैं।

भारतीय जनता पार्टी में अब कोई जगह ही नहीं

योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने ओम प्रकाश राजभर को लेकर कहा कि उनके लिए भारतीय जनता पार्टी में अब कोई जगह ही नहीं है। अनिल राजभर ने कहा कि 2017 में भाजपा की मदद से पांच सीट जीतने वाले ओम प्रकाश 2022 में समाजवादी पार्टी के साथ हो गए। ऐसे लोगों पर भरोसा करना ठीक नहीं है। वह भाजपा में आने लायक नहीं है, उनके लिए भाजपा में तो जगह ही नहीं है।

मंच पर पहुंचना पार्टी के कार्यक्रम का हिस्सा नहीं

अनिल राजभर ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि ओम प्रकाश राजभर के लिए भाजपा में कोई वेकेंसी नहीं है। मऊ में एक कार्यक्रम के बाद प्रदेश मंत्री अनिल राजभर ने कहा है कि सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर के लिए भाजपा में कोई जगह नहीं है। बलिया में डिप्टी सीएम बृजेश पाठक के साथ मंच पर ओपी राजभर के मौजूद रहने पर अनिल राजभर ने कहा कि उनका मंच पर पहुंचना पार्टी के कार्यक्रम का हिस्सा नहीं था। वह अपनी मर्जी से मंच पर पहुंचे थे।

अपनी क्षमता से कुछ भी करने की ताकत नहीं

अनिल राजभर ने कहा कि ओम प्रकाश राजभर में अपनी क्षमता से कुछ भी करने की ताकत नहीं है। उनको तो हमेशा ही बैसाखी की जरूरत पड़ी। 2017 में भाजपा की मदद से पांच सीट जीते तो 2022 में समाजवादी पार्टी की मदद से छह सीट जीते हैं। ओमप्रकाश राजभर को हमेशा एक बैसाखी की आवश्यकता होती है। इसके लिए वे किसी न किसी पार्टी की तलाश करते रहते हैं। वह अकेले कुछ नहीं कर सकते इसलिए कभी सपा तो कभी भाजपा के साथ जुड़ते हैं।

ब्रजेश पाठक ने कहा था ओम प्रकाश राजभर भाजपा के स्थाई मित्र

बलिया में एक कार्यक्रम में प्रदेश के डिप्टी सीएम ने ओम प्रकाश राजभर के साथ मंच साझा किया था। इतना ही नहीं पाठक ने ओम प्रकाश राजभर को भारतीय जनता पार्टी का स्थाई मित्र भी बताया था। बलिया के रसड़ा में बाबा रामदल सूरजदेव हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के उद्घाटन और उसके बाद भी ओम प्रकाश राजभर डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक के साथ थे। ब्रजेश पाठक ने मीडिया से राजभर के साथ में होने पर कहा कि ओम प्रकाश राजभर तो भाजपा के स्थाई। जब उनसे पूछा गया कि क्या 2024 में ये जोड़ी बनेगी रहेगी तो उन्होंने हंसते हुए कहा कि यह आप क्यों पूछ रहे हैं और आगे की बात है। 

Edited By: Dharmendra Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट