लखनऊ, जेएनएन। लापरवाही से ड्राइविंग पर ही नहीं, अगर आपने फिटनेस एनओसी सर्टिफिकेट के बिना वाहन दौड़ा तो पहली बार में 1500 रुपये और उसके बाद 10 हजार का जुर्माना देना होगा। साथ ही छह माह तक की जेल भी संभव है। 

नए मोटर व्हीकल एक्ट को जैसे-जैसे लागू किया जा रहा है, उसके प्रावधान सामने आ रहे हैं। उसी में प्रेशर हार्न का प्रयोग करने वालों पर नकेल का कड़ा कानून है। ऐसा करने पर पहली बार में तीन माह की सजा, दस हजार तक का जुर्माने का प्रावधान रखा गया है। तीन माह तक डीएल सस्पेंड भी संभव है। वहीं मालवाहक द्वारा मानव या प्रकृति को नुकसान पहुंचाने पर पहली बार में दस हजार का जुर्माना व तीन माह तक के लिए लाइसेंस सस्पेंड की व्यवस्था नए मोटर व्हीकल एक्ट में की गई है। दूसरी बार में पकड़े जाने पर 20 हजार का जुर्माना व तीन साल तक की सजा का प्रावधान है।  

शारीरिक अक्षमता वालों पर भी सख्ती

ऐसे रोग या शारीरिक अक्षमता जिससे वाहन चलाते वक्त चालक नियंत्रण खो सकता है, उस पर भी भारी जुर्माना लगेगा। 

एसपी यातायात पूर्णेंदु सिंह ने बताया कि  बिना फिटनेस और वायु व ध्वनि प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों के खिलाफ नए नियम में सख्त प्रावधान है। ऐसे वाहनों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। अब तक दो दर्जन वाहन सीज किए जा चुके है। 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस