लखनऊ, जेएनएन। बाराबंकी में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। सोमवार को अाई जांच रिपोर्ट में सात व्यक्तियों में संक्रमण की पुष्टि हुई है, इनमें छह व्यक्ति ऐसे है जोकि पूर्व में संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए थे। इस प्रकार जिले में अब तक 140 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं, इनमें चार ठीक हो चुके हैं। जबकि, राम सनेहीघाट क्षेत्र के एक व्यक्ति की गैर जनपद में मृत्यु हो गई थी और अंतिम संस्कार से पहले लिए गए नमूने की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव अाई थी। जिलाधिकारी डॉक्टर आदर्श सिंह ने सात और केस मिलने की पुष्टि करते हुए बताया कि वर्तमान में जिले में 135 सक्रिय केस हैं। संक्रमित पाए गए लोगों को सफेदाबाद स्थित हिन्द कोविड अस्पताल में आइसोलेट कराया गया गया है। इनमें से छह व्यक्ति पूर्व में संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए थे और एक मुंबई से आया था। सभी इंस्टीट्यूशनल क्‍वारंटाइन थे। इनके नमूने 24 मई को जांच के लिए भेजे गए थे। हरख क्षेत्र के कोला और इब्राहिमाबाद में एक - एक व्यक्ति संक्रमित पाया गया है, जबकि राम सनेहीघाट तहसील क्षेत्र के असंद्रा थाना क्षेत्र के सिन्नी के दो और आरएस घाट कोतवाली क्षेत्र के नारायणपुर के तीन व्यक्ति संक्रमित पाए गए हैं। इनमें इब्राहिमाबाद को नया हॉट स्पॉट घोषित करते हुए सील करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

रेलवे स्टेशन पर तैनात GRP सिपाही को कोरोना

लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन पर तैनात जीआरपी के सिपाही में कोरोना की पुष्टि हुई है। वहीं, एक अंबेडकरनगर निवासी व्यक्ति में भी संक्रमण मिला है। इसका इलाज निजी अस्पताल में चल रहा था। ऐसे में राजधानी में मरीजों की संख्या बढ़कर 324 हो गई है। इसके अलावा 55 वर्षीय व्यक्ति को किडनी की समस्या थी। परिवारजन उन्हें दुबग्गा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया। इनमें वायरस की पुष्टि हुई है। मरीज को पीजीआइ शिफ्ट किया गया।  वहीं, सिपाही को केजीएमयू भेजा गया है। 

ठीक हो रहे हाई रिस्क ग्रुप के मरीज 

राजधानी में अब तक 324 मरीज कोरोना पॉजिटिव हुए। इसमें से हाई रिस्क ग्रुप के कैंसर, डायबिटिक, गुर्दा, हृदय, रोगी, गर्भवती, बच्चे आदि अधिकतर मरीज ठीक हो गए।  अब तक चार की मौत हुई। जिसमें दो गैर जनपदों के हैं। वहीं, रविवार को 24 मरीज का इलाज चल रहा है। 

11और जीआरपी  जवान क्वारंटाइन 

जीआरपी जवान के कोरोना पॉजिटिव आनेआने के बाद विभाग में हड़कंप मच गया है। जीआरपी लाइन के 11 जवानों को क्वारंटाइन किया गया है।  

पीजीआइ में भर्ती के लिए ढाई घंटे तड़पा कोरोना मरीज 

अंबेडकरनगर निवासी मरीज में कोरोना की पुष्टि होने पर पीजीआइ रेफर किया गया। डेढ़ बजे एंबुलेंस मरीज को लेकर कोविड अस्पताल पहुंची। यहां चार बजे तक वह एंबुलेंस में ही तड़पता रहा।  पीजीआइ निदेशक डॉ.आरके धीमान का फोन रिसीव नहीं हुआ।  सीएमओ ने कहा एसीएमओ के नेतृत्व में कमेठी बनेगी, जो तीन दिन में रिपोर्ट देगी। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस