लखनऊ, जेएनएन। बिजली की डिमांड भले कम हो गई हो, लेकिन तेज हवा और बारिश ने बिजली विभाग की तैयारियों की पोल जरूर खोल दी। बारिश के कारण राजधानी के अधिकांश क्षेत्र की बिजली देर रात गुल हो गई। कई क्षेत्रों में बिजली तो चंद घंटे बाद आग गई, लेकिन कुछ उपकेंद्रों से पोषित मुहल्लों में बिजली सुबह 10 बजे तक आई। इससे उपभोक्ताओं को पानी की समस्या का सामना करना पड़ा।

गुरुवार रात हुई बारिश के चलते अपट्रान उपकेंद्र के हबीबपुर व काकोरी फीडर व राजाजीपुरम न्यू उपकेंद्र का मोहान रोड फीडर बंद होने के कारण अंधेरा छा गया और सुबह तक बिजली न चालू होने से घरों में पानी का संकट खड़ा हो गया। यही हाल गोमती नगर के कुछ खंडों में रहा। इसके अलावा उदयगंज, हुसैनगंज, ठाकुरगंज, चौक, अपट्रान, रेजीडेंसी सहित कई क्षेत्रों में रहा। वहीं सेस के अंतर्गत आने वाले मोहनलालगंज, गोसाईगंज, दुबग्गा, नादरगंज, बंथरा, सरोजनीनगर सहित एक दर्जन से अधिक उपकेंद्रों से पोषित क्षेत्रों में बिजली का संकट रहा। अभियंताओं ने बताया कि बारिश के हबीबपुर फीडर देर रात बंद हो गया। इसके कारण पक्काबाग, कश्मीरी बाग, संगम सिटी, भूहर व काकोरी फीडर के समनान गार्डेन, एकता नगर, अहिरन खेड़ा, आदर्शनगर, मल्हपुर सहित कई इलाके की बिजली गुल हो गई थी। सुबह साढ़े छह बजे चालू हो सकी। विराम खंड और विवेक खंड तीन में पेड़ गिरने से बिजली आपूर्ति प्रभावित रही।

गुरुवार के बाद शुक्रवार को भी विभिन्न जिलों में जमकर ओलावृष्टि और बारिश हुई। जिससे जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। बिजली आपूर्ति बाधित रही।आलू, सरसों आदि फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है। हालांकि जहां केवल बारिश हुई है, वहां मसूल और गेहूं की फसल को फायदा पहुंचा है। ठंड से जहां तीन लोगों की मौत हो गई, वहीं बिजली गिरने से तीन बच्चों सहित चार लोगों की मौत हो गई और तीन लोग झुलस गए। बारिश से पेड़ और मकान गिरने से दो लोगों की मौत हो गई। गुलाबी ठंड के बीच गुरुवार शाम से ही अवध के आसमां पर बादल छा गए। देर रात छिटपुट स्थानों पर बूंदाबांदी हुई। हरदोई में बिजली गिरने से तीन बच्चों की मौत हो गई। वहीं ठंड से महोबा में चार वर्षीय बच्चे की मौत हो गई, जबकि औरैया में ठंड से दो किसानों की मौत हो गई। फतेहपुर में बिजली गिरने से एक व्यक्ति झुलस गया।

बुलंदशहर में बिजली गिरने से दो लोग झुलस गए। वहीं बिजनौर में बिजली गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। अमरोहा में छप्पर के नीचे दबकर ग्रामीण की मौत। गजरौला में आंधी बारिश से मकान गिरने से छह लोग दब गए। आगरा, मथुरा, फीरोजाबाद में ओले गिरे। मथुरा में बारिश के दौरान पेड़ गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई।

बारिश से धुला प्रदूषण, 274 पर पहुंचा एक्यूआइ

लखनऊ: पिछले कई दिनों से प्रदूषण से जूझ रहे शहरवासियों को गुरुवार रात और शुक्रवार को हुई बारिश ने राहत दी। बारिश से एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) 38 यूनिट की गिरावट के साथ शुक्रवार को 274 के स्तर पर दर्ज हुआ। वहीं, गाजियाबाद, ग्रेटर नो

कोई खुले में न सोए : योगी

शुक्रवार को हुई बरसात ने अचानक ठंडक बढ़ा दी। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बचाव के पर्याप्त इंतजाम करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। योगी ने कहा कि सभी जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, उपजिलाधिकारी सहित वरिष्ठ अधिकारी क्षेत्र में भ्रमण कर यह सुनिश्चित करें कि कोई भी व्यक्ति खुले में न सोए। उन्होंने जनप्रतिनिधियों के जरिये कंबल वितरण और महत्वपूर्ण स्थानों पर अलाव जलवाने के निर्देश भी दिए हैं।

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस