लखनऊ, [न‍िशांंत यादव]। रेलवे अब आधुनिक फीचर से लैस तेजस एक्सप्रेस को 160 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से दौड़ा सकेंगे। चेयरकार में बैठकर यात्रा करने की जगह यात्री इस स्मार्ट तेजस में सोकर आरामदायक सफर कर सकेंगे। इस सेमी हाइस्पीड ट्रेन का 18 बोगियों का रैक आधुनिक रेल कोच फैक्ट्री कपूरथला ने तैयार किया है। शुक्रवार को फैक्ट्री से स्मार्ट तेजस के रैक को रवाना किया। इससे पहले फैक्ट्री ने हमसफर के स्मार्ट कोच को भी तैयार किया था।

इस स्मार्ट तेजस एक्सप्रेस के रैक में 10 बोगी एसी थ्री की होंगी। जबकि चार बोगी एसी सेकेंड और एक बोगी एसी फस्र्ट की रहेगी। लंबी दूरी के लिए स्मार्ट तेजस दौड़ सके इसके लिए एक रसोई यान और दो पावर कार भी इस ट्रेन में होंगी। रेल कोच फैक्ट्री के जीएम विनय मोहन श्रीवास्तव ने बताया कि तेज स्पीड वाली स्मार्ट तेजस में यात्री आरामदायक सोते हुए सफर कर सकें। इसके लिए रैक की बोगियों की बॉडी को स्टेनलेस स्टील से तैयार किया गया है। इन बोगियों में कोरोगेटेड साइडवाल का प्रयोग किया गया है। कोचों में यात्रियों की सुरक्षा के लिए स्वचालित प्लगडोर का प्रयोग किया गया है। वहीं विमान की तरह स्मार्ट तेजस में वैक्यूम इवाक्यूवेशन सिस्टम युक्त लेवोटरी का प्रयोग किया गया है।

यह फीचर भी तेजस को बनाएंगे स्मार्ट

स्मार्ट तेजस में आग व धुएं का पता लगाकर तुरंत सूचना देने वाले यंत्र भ्ी लगे हैं। वहीं आकर्षक विनाइल शीट, बेहतर आंतरिक सज्जा,जीपीएस आधारित यात्री सूचना प्रणाली, यात्री घोषणा प्रणाली, ट्रेन का नाम और ट्रेन नंबर प्रदर्शित करने के लिए डिजिटल डेस्टिनेशन बोर्ड, वाई फाई पर आधारित इंफोटेनमेंट सिस्टम होंगे। जिसमें स्मार्टफोन एकीकृत मीडिया और गेमिंग सेवाएं, मोबाइल व टैब के लिए एंड्रॉइड और आइओएस एप पर वीडियो की सुविधा होगी। चिकित्सा या सुरक्षा के लिए आपातकालीन टॉक बैक सिस्टम, वीडियो विश्लेषणात्मक आधारित सीसीटीवी सर्विलांस सिस्टम, कोच के अंदर वायु गुणवत्ता की निगरानी के लिए सेंसर, स्मार्ट वाटर लेबल सेंसर भी होगा। स्मार्ट वाटर लेबर सेंसर बोगी में पानी कम होने पर अगले वाटरिंग स्टेशन को एसएमएस अलर्ट भेजेगा । प्रधान मुख्य यांत्रिक अभियंता अनूप कुमार ने कहा कि इस उपलब्धि का श्रेय पूरी फैक्ट्री टीम को जाता है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021