लखनऊ, जेएनएन। बकरीद, स्वतंत्रता दिवस और हाल में जम्मू कश्मीर को लेकर आए फैसले को लेकर सोशल मीडिया पर तमाम तरह की अफवाहें चल रही है। सोशल मीडिया के जरिए कुछ लोग अफवाह फैलाने के साथ धार्मिक भावनाओं को भी आहत करने से बाज नहीं आ रहे हैं। इस पर रोक लगाने के लिए पुलिस अब आरोपितों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत कार्रवाई करेगी।

एसएसपी कलानिधि नैथानी की तरफ से फेसबुक, व्हाट्सएप व अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से अफवाह फैलाने और माहौल बिगाडऩे पर एनएसए में कार्रवाई करने के साथ जेल भेजने की चेतावनी दी गई है। आदेश के मुताबिक सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक लेख, फोटो व वीडियों शेयर करने के साथ उसे लोगों और अन्य ग्र्रुप में फॉरवर्ड करने पर भी आईपीसी की गंभीर धाराओं में कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस ने लोगों को अफवाह से बचने और सावधानी बरतने की सलाह दी है। साथ ही ग्र्रुप में आपत्तिजनक सामग्र्री शेयर होने पर उसकी सूचना तुरंत पुलिस को देने के लिए भी कहा है। साथ ही जिला पुलिस खुद भी सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर नजर रखेंगी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस