लखनऊ, जेएनएन। साधु के वेश में अयोध्या जा रहे मुस्लिम कारसेवक मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष आजम खान को पुलिस ने प्रेस क्लब के पास से हिरासत में ले लिया है। वह लाल गेरुआ वस्त्र धारण कर, हाथ में कमंडल, नकली जटा और लंबी दाढ़ में अयोध्या जल समाधि लेने के लिए जा रहे थे। कैसरबाग पुलिस पूछताछ के लिए उन्हें थाने पर ले गई है।  आजम खान का कहना था कि वह राम के भक्त हैं, लेकिन उन्हें राम मंदिर निर्माण के शिलान्यास के दौरान नहीं बुलाया गया है। कहा कि एक राम भक्त दूसरे राम भक्त का रास्ता नहीं रोक सकता। निश्चित ही किसी राक्षस ने उनका रास्ता रोका है।

उन्होंने कहा कि उनमें से एक इकबाल अंसारी भी हैं, जिन्होंने 70 साल तक राम मंदिर का रास्ता रोका । फिर भी उन्हें बुलाया गया। मुस्लिम कारसेवक मंच के अध्यक्ष ने कहा कि वह भी अयोध्या जाएंगे। वहां पर यज्ञ करेंगे और राक्षसों को मारेंगे। उनके वेश बदल कर अयोध्या जाने की सूचना जब पुलिस को मिली तो तत्काल उन्हें हिरासत में ले लिया गया। न्योता ना मिलने के कारण वह जल समाधि लेने के लिए तत्पर थे।

दरअसल आजम खान हाल ही में बयान दिया था कि, अगर उनको निमंत्रण नहीं मिला तो भूमि पूजन के दौरान जल समाधि ले लेंगे। थाना प्रभारी दीनानाथ मिश्र ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली कि आजमखान वेश बदलकर जल समाधि लेने के लिए अयोध्या जाना चाह रहे थे। इसके पहले उन्हें पकड़ लिया गया। हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस