लखनऊ (जेएनएन)। सोमवार को मुहर्रम का चांद नही दिखाई दिया। 30 के मुताबिक बुधवार को मुहर्रम की पहली तारीख होगी। मरकज़ी शिया चंद कमेटी के अध्यक्ष मौलाना सैफ अब्बास ने 29 का चांद नही होने का ऐलान किया। मौलाना ने कहा कि आशूर (10 मुहर्रम) 21 सितंबर शुक्रवार को होगी। वही मरकज़ी चांद कमेटी के अध्यक्ष मौलाना खालिद राशिद ने भी चांद की तस्दीक न होने से बुधवार को मुहर्रम की पहली तारीख

होगी।

मोहर्रम व गणेश चतुर्थी पर सुरक्षा-व्यवस्था की चुनौती

पुलिस के सामने अब मोहर्रम व गणेश चतुर्थी पर सुरक्षा-व्यवस्था की बड़ी चुनौती है। डीजीपी ओपी सिंह ने सभी एसएसपी/एसपी से कहा है कि इस मौके पर कहीं कोई नई परंपरा न शुरू होने दी जाए। संवेदनशील क्षेत्रों में पुलिस अधिकारी खुद भ्रमण कर जायजा लें और कहीं कोई विवाद हो तो उसका वक्त रहते निस्तारण करा लिया जाए।

डीजीपी ने जुलूस व शोभा यात्रा के मार्गों का पहले से निरीक्षण कर लिये जाने का निर्देश भी दिया है। इस दौरान अधिकारी हर छोटी घटना को भी पूरी गंभीरता से देखें और कहीं किसी विवाद की स्थिति को पनपने न दें। अवांछित तत्वों व संदिग्धों के खिलाफ भी लगातार कार्रवाई की जाए। गड़बड़ी करने वालों पर कड़ी नजर रखी जाए। जुलूस के आगे व पीछे दोनों ही ओर पुलिस बल की तैनाती की जाए। साथ ही जुलूस मार्ग व संवेदनशीन स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगवाये जाएं।

 

Posted By: Ashish Mishra