लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। इंडिया सेल्युलर एंड इलेक्ट्रानिक्स एसोसिएशन ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को राज्य में 300 एकड़ क्षेत्रफल में मोबाइल एंड इलेक्ट्रानिक्स एक्सेसरीज पार्क विकसित करने का प्रस्ताव दिया है। एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार को खादी भवन में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह से मुलाकात कर उन्हें इस परियोजना को विकसित करने का प्रस्ताव दिया और इसका प्रस्तुतीकरण किया।

एमएसएमई मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि मोबाइल एंड इलेक्ट्रानिक्स एक्सेसरीज पार्क विकसित होने पर प्रदेश में लगभग 500 नई फैक्ट्रियां लगेंगी और दो से ढाई लाख रोजगार के अवसर सृजित होंगे। इससे प्रदेश में चार से पांच अरब डालर का निवेश होगा और 40 हजार करोड़ रुपये का निर्यात भी होगा। सरकार उच्च स्तर पर विचार-विमर्श कर उद्यमियों को हर संभव सहायता उपलब्ध कराएगी।

इंडिया सेल्युलर एंड इलेक्ट्रानिक्स एसोसिएशन के वाइस प्रेसिडेंट विवेक वत्स और एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर राजेश शर्मा ने बताया कि इस प्रोजेक्ट में एनसीआर और पूर्वांचल क्षेत्र को प्राथमिकता दी जाएगी। उन्होंने बताया कि इलेक्ट्रानिक्स क्षेत्र में नेशनल पालिसी-2019 के तहत यह उद्योग भारत में 400 बिलियन डालर का उत्पादन करेगा। पिछले पांच से सात वर्षों में मोबाइल फोन और इसके पार्ट्स के निर्माण की 269 यूनिट भारत में स्थापित की जा चुकी हैं। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में मोबाइल हैंडसेट की जितनी भी मांग है, उसमें आधे से ज्यादा मोबाइल सेट इंडिया सेल्युलर एंड इलेक्ट्रानिक्स द्वारा उपलब्ध कराए जाते हैं।

Edited By: Umesh Tiwari