लखनऊ, जेएनएन। राजधानी में टप्पेबाजी की घटनाओं पर नकेल नहीं लग पा रहा है। बदमाश खुद को पुलिसकर्मी बताकर महिलाओं के जेवर उतरवा ले रहे हैं। सोमवार सुबह टप्पेबाजों ने गोमती नगर विस्तार और विकासनगर में दो महिलाओं को झांसे में लेकर उनके कीमती जेवरात उतरवा लिए। पुलिस ने दोनों मामलों में एफआइआर दर्ज की है। 

यह है मामला 

गोमती नगर विस्तार स्थित रोहणी अपार्टमेंट में रहने वाली निशा शुक्ला (62) सोमवार सुबह करीब नौ बजे घर से टहलने निकली थीं। वह कावेरी अपार्टमेंट की तरफ पैदल जा रही थीं, उसी दौरान उन्हें बाइक सवार दो बदमाशों ने रोक लिया। बदमाशों ने खुद को पुलिसकर्मी बताते हुए कहा कि क्षेत्र में बहुत चोरी व लूट की घटनाएं हो रही हैं और आप जेवर पहनकर चल रही हैं। कोई बदमाश लूट लेगा तो समस्या खड़ी हो जाएगी। बातों में फंसाकर बदमाशों ने निशा के सारे गहने उतरवा कर उन्हें एक कागज में लपेटकर दे दिया और फरार हो गए। निशान ने घर जाकर कागज खोलकर देखा तो उनके गहनों की जगह प्लास्टिक के कंगन रखे थे। ठगी की जानकारी होने पर पीडि़ता ने घरवालों को इसकी सूचना दी, जिसके बाद पुलिस ने छानबीन शुरू की।

स्थानीय लोगों का कहना है कि इस तरह की घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं। बावजूद इसके पुलिस बदमाशों को दबोच नहीं पा रही है। उधर, विकासनगर के सेक्टर पांच स्थित शारदा कांप्लेक्स निवासी अनीता आहूजा को सोमवार सुबह बदमाशों ने रोक लिया। वह घर के बाहर टहल रही थीं। अनीता के मुताबिक दो बदमाशों ने खुद को पुलिसकर्मी बताते हुए उनके सोने के कंगन उतरवा लिए। पीडि़ता ने पुलिस से कार्रवाई की मांग की है।

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस