सीतापुर, जेएनएन। प्रदेश के खादी एवं रेशम उद्योग मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह रविवार को पत्थर शिवाला स्थित अपने आवास पहुंचे। यहां स्थानीय लोगों से मुलाकात की। शाम को मंत्री मीडिया से रूबरू हुए। उन्होंने कहा कि नये कृषि विधेयक पर विपक्ष किसानों को गुमराह कर रहा है। नया बिल आने के बाद भी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर अनाज की खरीद जारी रहेगी। 

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद बंद करने की बात पूरी तरह गलत है। नये विधेयक के आने के बाद किसान अपनी उपज कहीं भी बेंच सकते हैं। बिचौलियों की भूमिका पूरी तरह बंद हो जाएगी। किसानों को अपनी उपज का अधिक मूल्य मिलेगा। पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश में धान की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य पर जारी है। विपक्षी दलों के पास कोई मुद्दा नहीं है। वह किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर राजनीति कर रहे हैं। 

मंत्री ने कहा, खादी एवं रेशम उद्योग के माध्यम से लोगों को रोजगार दिया जा रहा है। आठ लाख नई इकाइयों को 24 हजार करोड़ रुपये का ऋण दिया गया है। ऋण से इकाइयां कई तरह के व्यवसाय कर रही हैं। सरकार ने पूरी पारदर्शी तरीके से शिक्षकों की भर्ती की है। विश्वकर्मा योजना, मुख्यमंत्री रोजगार योजना से जरूरतमंदों को रोजगार दिया जा रहा है।

प्रदेश में अपराधों को लेकर सवाल पर मंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो ने जो आंकड़े जारी किए हैं, वह सपा सरकार की तुलना में बहुत कम हैं। ब्यूरो ने प्रदेश सरकार की सराहना भी की है। शरद चौधरी, राजकुमार जैन, वेदरत्न मिश्रा, पीयूष मौर्या, रोहित नाथ सिंह आदि मौजूद रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस