लखनऊ, जेएनएन। पंजाब की जेल में बंद बहुजन समाज पार्टी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी तथा उनकी पत्नी के गैंग पर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार का लगातार प्रहार रंग लाने लगा है। मुख्तार अंसारी की करोड़ों की प्रापर्टी को कब्जे में लेने के बाद सरकार अब उनके गैंग पर तेजी से कार्रवाई कर रही है। इसी क्रम में मुख्तार अंसारी के किसी खास ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को मिटाने की धमकी वाला मैसेज किया है। यह मैसेज यूपी 112 कंट्रोल रूम के मोबाइल पर आया है। इस मैसेज के बाद सक्रिय हुई पुलिस ने लखनऊ के जानकीपुरम से धमकी देने वाले को हिरासत में लिया है। उससे पूछताछ जारी है।  

उत्तर प्रदेश सरकार अब बाहुबली और उसके मददगारों पर तेजी से कार्रवाई कर रही है। इसी कड़ी में विधायक मुख्तार अंसारी की अवैध संपत्तियों के साथ उसके गुर्गों पर शिकंजा कसा जा चुका है। सरकार की इस कार्रवाई का असर यह हुआ कि सरकार के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मिटाने की धमकी वाले मैसेज पुलिस कंट्रोल रूम को मिलने लगे हैं। एक मैसेज मिला कि मुख्तार अंसारी को जेल से शुक्रवार तक नहीं छोड़ा तो सरकार मिटा दी जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी नहीं छोड़ेंगे।

जैसे ही यह धमकी भरे मैसेज कंट्रोल रूम यूपी 112 सेवा को मिले पुलिस ने गुपचुप तरीके से आरोपित की तलाश कर शुरू करने के साथ मुख्यमंत्री समेत अन्य भाजपा नेताओं की सुरक्षा में लगे लोगों को सतर्क कर दिया गया। मैसेज में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रति अभद्र बातें करने के साथ ही मुख्तार अंसारी को 24 घंटे के भीतर जेल से बाहर निकलने की बात कही गई थी। धमकी देने वाले ने मैसेज में लिखा था कि मुख्तार को जेल से नहीं छुड़ाया गया तो 25 तारीख यानी शुक्रवार तक सरकार मिटा दी जाएगी। धमकी भरे मैसेज कंट्रोल रूम यूपी 112 सेवा के मोबाइल नंबर आने के बाद पुलिस प्रशासन हरकत में आ गया। मैसेज भेजने वाले को पुलिस ने गुरुवार देर रात हिरासत में ले लिया। पुलिस की एक टीम आरोपी को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ में लगी है। 

पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय ने बताया बुधवार दोपहर 9696755113 नंबर से यूपी 112 सेवा के वाट्सएप नंबर पर सरकार और मुख्यमंत्री को लेकर कई धमकी भरे मैसेज आए थे। इसकी सूचना पर इंस्पेक्टर हजरतगंज अंजनी कुमार पाण्डेय की तरफ से हजरतगंज में एक मुकदमा दर्ज उसकी तलाश शुरू कर दी। पुलिस टीम ने गुरुवार को रात उसे हिरासत में ले लिया। उसके विषय में जानकारी जुटाई जा रही है। जल्द ही पूरी घटना का पर्दाफाश किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि कंट्रोल रूम के नंबर पर धमकी भरे मैसेज बुधवार सुबह 9.56 से 10.11 बजे के बीच भेजे गए थे। मैसेज में सीएम योगी आदित्यनाथ को धमकी देते हुए मुख्तार अंसारी को 24 घंटे के अंदर जेल से छोडऩे को कहा गया। ऐसा न करने पर 25 सितंबर (शुक्रवार) को सरकार मिटाने की धमकी दी थी। जिस नंबर से धमकी भरे मैसेज भेजे गए हैं, उसका पता लगाया गया। उसके बाद उसे हिरासत में ले लिया गया। उसके मुख्तार अंसारी से संबंधों के साथ आपराधिक इतिहास के विषय में ब्यौरा जुटाया जा रहा है।

एटा के ट्रक ड्राइवर ने भेजा था धमकी भरा मैसेज 

सीएम योगी आदित्यनाथ तथा उत्तर प्रदेश सरकार को धमकी देने वाला ट्रक ड्राइवर है। एटा के रहने वाले ट्रक ड्राइवर अमरपाल को हजरतगंज पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एटा निवासी अमरपाल ने सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ उत्तर प्रदेश सरकार को मिटाने की धमकी का मैसेज डायल 112 के व्हाट्स एप नंबर पर भेजा था।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस