लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार हर जिले में मेडिकल कालेज का लक्ष्य लेकर चलने के साथ चिकित्सा सुविधा की नींव को भी मजबूती प्रदान कर रही है। इस क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को पांच हजार स्वास्थ्य उपकेन्द्रों का लोकार्पण करेंगे। इसके साथ ही वह 15 जिलों में कोरोना की आरटीपीसीआर जांच लैब के साथ मंत्र एप को भी लांच करेंगे। जिससे प्रदेश में चिकित्सा सुविधाएं और बेहतर होंगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार शाम को अपने सरकारी आवास, पांच कालीदास मार्ग से को पांच हजार नए स्वास्थ्य उपकेंद्रों का लोकार्पण करेंगे। इस दौरान उनके साथ स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह तथा राज्य मंत्री अतुल गर्ग भी मौजूद रहेंगे। प्रदेश के कई जिलों में बने इन स्वास्थ्य उपकेंद्रों पर करीब ढाई से तीन करोड़ लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। इसमें महिलाओं व बच्चों के इलाज और टीकाकरण की विशेष सुविधा होगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज ही 15 जिलों में कोरोना की आरटीपीसीआर जांच लैब का भी शुभारंभ किया जाएगा। इसके साथ ही अब सभी जिलों में कोरोना की जांच लैब होगी। बायो सेफ्टी लेवल (बीएसएल) टू लैब में बेहतर जांच हो सकेगी।

जिन जिलों में नई लैब स्थापित की गई हैं उनमें चित्रकूट, उन्नाव, फतेहपुर, बाराबंकी, महाराजगंज, ललितपुर, कौशांबी, कानपुर देहात, हाथरस, गाजीपुर, श्रावस्ती, मैनपुरी, एटा, लखीमपुर खीरी व बलरामपुर शामिल हैं। वहीं सभी सरकारी अस्पतालों में प्रसव के उपरांत सूचना का संकलन किए जाने के लिए मंत्र एप यानी मां-नवजात ट्रैङ्क्षकग एप का भी शुभारंभ किया जाएगा।  

Edited By: Dharmendra Pandey