लखनऊ, जेएनएन। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (KGMU) में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना औचक निरीक्षण करने पहुंचे। इस दौरान उन्हें ट्रॉमा सेंटर में गंदगी का अंबार मिला। वहीं, लारी में भोजन वितरण के दरम्यान ट्रॉली की भी सफाई व्यवस्था ध्वस्त मिली। ऐसे में अफसरों को व्यवस्था सुधारने का अल्टीमेटम दिया। साथ ही कंपनी पर 25 हजार का जुर्माना लगाया।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना बुधवार 11 बजे के करीब केजीएमयू पहुंचे। यहां दो घंटे तक शताब्दी भवन, क्वीनमेरी, ट्रॉमा सेंटर व लारी कॉर्डियोलॉजी का निरीक्षण किया। इस दौरान भर्ती मरीजों का हाल लिया। वार्ड, शौचालय उन्हें गंदे मिले। साफ-सफाई की व्यवस्था दुरुस्त नहीं मिली। उधर, लारी पहुंचने पर मरीजों का भोजन वितरण चल रहा था। कर्मचारी जिन ट्रॉली से मरीजों का खाना लाए थे, वह गंदगी से सनी हुई थीं। इसको लेकर मंत्री ने नाराजगी जाहिर की।

तीन शिफ्टों में चलाएं डायलिसिस

मंत्री ने नेफ्रोलॉजी वार्ड का निरीक्षण किया। यहां एक दिन में 35 मरीजों की डायलिसिस की व्यवस्था है। इसमें 15 दिन में मशीनें बढ़ाने का निर्देश दिया। साथ ही तीन शिफ्टों में यूनिट रन कर 70 मरीजों की रोज डायलिसिस करने के निर्देश दिए।

ट्रॉमा में समय पर मिले इलाज

मंत्री ने ट्रॉमा सेंटर में इमरजेंसी में आए मरीजों का समय पर इलाज सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना टेस्ट में कितना टाइम लगेगा, मरीज के इलाज की प्रक्रिया कब और क्या अपनाई जाएगी। तीमारदारों को पूरी जानकारी दें। उन्होंने कहा कि मरीजों के साथ लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस दौरान प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेजों को पूर्व की तरह इमरजेंसी सेवा रन करने का निर्देश दिया।

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस