लखनऊ,  जेएनएन। छोटी-छोटी बातों पर आजकल बच्चे नाराज हो जा रहे हैं। आलम यह है कि बच्चे गुस्से में घर से निकलने से भी परहेज नहीं कर रहे हैं। राजधानी में शनिवार देर रात एक ऐसा ही मामला प्रकाश में आया। इंदौर से विभूति खंड लौटे मेडिकल छात्र पार्थ को उसके पिता सेवानिवृत्त चिकित्सक ने किसी बात पर डांट दिया, जिससे नाराज होकर पार्थ घर से निकल गया। 

काफी देर तक जब पार्थ वापस घर नहीं लौटा तो उसके पिता ने खोजबीन शुरू की, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। परेशान होकर उन्होंने विभूति खंड थाने में इसकी सूचना दी। मामले की गंभीरता को देखते हुए डीसीपी पूर्वी चारू निगम ने एसीपी विभूतिखंड स्वतंत्र कुमार सिंह और इंस्पेक्टर से इस संबंध में बातचीत की। डीसीपी के निर्देश पर पुलिस टीम तैयार की गई और संभावित स्थानों पर पार्थ की तलाश के लिए दबिश शुरू की गई। कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने इंदिरा नहर के पास से पार्थ को बरामद कर लिया। एसीपी विभूति खंड ने बताया कि पार्थ घर से कार लेकर निकला था। कार नंबर और उसके मोबाइल नंबर के आधार पर सर्विलांस की मदद से उसकी लोकेशन का पता लगाया गया। इसके बाद पार्थ को सकुशल बरामद कर लिया गया। छानबीन में पता चला कि पार्थ घर में बिना बताए नाराज होकर निकल गया था, जिससे परिवार जन परेशान हो गए थे। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप