लखनऊ (जेएनएन)। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जल्द ही शादी का रजिस्ट्रेशन अनिवार्य करने की योजना बना रही है, जिसका प्रस्ताव जल्द ही योगी सरकार की कैबिनेट में लाया जा सकता है।

इसके साथ ही बिना रजिस्ट्रेशन के अब सरकारी सेवाओं का लाभ नहीं मिलेगा, जिसके चलते शादी का रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य होगा। देश की सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट इस पर अपना फैसला भी सुना चुकी है।

यह भी पढ़ें: वाराणसी के मेयर रामगोपाल मोहले हादसे में घायल

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसला देने के बाद से अब तक कई राज्य इस नियम को लागू कर चुके हैं। इनमें राजस्थान, बिहार, हिमांचल प्रदेश और केरल शामिल हैं। इन राज्यों में शादी का रजिस्ट्रेशन वहां की सरकारों द्वारा अनिवार्य कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: कहर बरपा रही तेज धूप और लू, उमस से सब बेहाल

Posted By: amal chowdhury

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस