लखनऊ, जेएनएन। मंगलवार को नवरात्र के आठवें  मां के आठवें स्वरूप महागौरी की पूजा की गई। मंदिरों में मां का श्रंगार किया गया। वहीं घरों में आरती की गई। सभी ने कोरोना के प्रकोप के खत्म होने की प्रार्थना की। वहीं सोमवार को मां के काल रात्रि स्वरूप की की विधि विधान से घरों में पूजा की गई तो मंदिरों में पुजारियों ने मां के स्वरूप का श्रृंगार किया। कलश के सामने दुर्गा सप्तशती के पाठ के साथ ही परिवार के साथ मां आरती उतारी। मानसनगर की पार्वती देवी ने घर में ही मां के चरणों में भजनों का गुलदस्ता पेशकर माहौल को भक्ति से सराबोर कर दिया। चौपटिया के संदोहन देवी मंदिर और मां पूर्वी देवी मंदिर में पुजारी की ओर से विशेष दरबार सजाया गया। शास्त्री नगर के दुर्गा मंदिर में भी विशष पूजा अर्चना की गई। आचार्य एसएस नागपाल ने बताया कि नवरात्र में आप घर में ही मां दुर्गा का आह्वान करें। 

मंगलवार को मां के आठवें स्वरूप महागौरी की पूजा हुई। सिद्धिदात्री स्वरूप के पूजन के साथ नवरात्र का समापन होता है। नवमी के दिन राम नवमी भी होगी। मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के अवतरण की इस बेला पर श्रीराम की पूजा करने से पुण्य की प्राप्ति होती है। दोपहर बाद राम नवमी का मान शुरू हो जाएगा।राम नवमी 21 को , घर में जलाएं दीपक21 अप्रैल को राम नवमी है और इस दिन मध्याह्न 12 बजे के बाद मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का जन्म हुआ था। आचार्य आनंद दुबे ने बताया कि इस दिन श्रीराम जन्मोत्सव घर में मनाएं और दीपदान करें। घरों के बाहर विषम संख्या में दीपक जलाने और श्रीराम का नाम लेने से आपको विशेष कृपा मिलेगी। शास्त्रीनगर दुर्गा मंदिर के प्रबंधक राजेंद्र गोयल ने घर के सामने छत पर नौ दीपक जलाने और कोरोना से समाज को मुक्त करने की कामना का आह्वान किया है। संदोहन देवी मंदिर के अध्यक्ष केके मेहरोत्रा और मां पूर्वी देवी मंदिर के प्रमोद शुक्ला ने भी दीपक जलाने और दान करने का आह्वान किया है।श्री राम मनौती यात्रा स्थगितकोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण इस बार चौक से निकलने वाली राम मनौती यात्रा स्थगित रहेगी। मुख्य संयोजक अतुल गुप्ता ने बताया राम नवमी के अवसर पर कोनेस्वर मंदिर से प्रारंभ होकर चौक सर्राफा में कल्ली जी राम मंदिर पर यात्रा समाप्त होती थी । इस बार संक्रमण के चलते स्थगित रहेगी। मीडिया प्रभारी ऋद्धि गौड़ ने बताया कि समिति की बैठक में अभिषेक खरे, मोनी टंडन, सुशील अग्रवाल आदि ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया है और मंदिर में रामनवमी पर भगवान राम लला का पूजन एवं भोग आरती के द्वारा रामनवमी संपन्न होगी।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप