लखनऊ, जेएनएन। परिषदीय विद्यालयों में बच्चों को स्वेटर बांटने वाली कानपुर की एनएन इंडस्ट्रीज तय समय पर राजधानी में स्वेटर नहीं वितरित कर पाई है। लिहाजा डीएम अभिषेक प्रकाश ने कंपनी को ब्लैक लिस्ट करने और रिपोर्ट दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। डीएम ने सोमवार को गोसाईगंज के माढऱमऊ स्थित माध्यमिक और पूर्व माध्यमिक विद्यालय के औचक निरीक्षण के दौरान निर्देश दिए। 

डीएम के निरीक्षण के दौरान विद्यालय में शराब पीने जाने दौरान कुछ खाली बोतलें भी मिली। इसके साथ ही विद्यालय से लेकर शौचालय तक गंदगी मिलने पर उन्होंने नाराजगी जताते हुए। प्रधान व अधिकारियों को फटकार लगाई। 

जिलाधिकारी ने बीएसए को तत्काल विद्यालय में सफाई कराने के निर्देश दिए। इसके साथ ही ग्राम प्रधान और अधिकारियों को फटकार लगाई। पूर्व माध्यमिक विद्यालय में जिलाधिकारी को सब ठीक मिला। यहां उन्हें विद्यालय की इंचार्ज अंजली सिंह मिलीं। उन्होंने बताया कि तीन अध्यापिकाएं नियुक्त है, जिसमें दो मातृत्व अवकाश पर हैं। 

निरीक्षण में अपर जिलाधिकारी राजस्व अवनीश सक्सेना, एसडीएम मोहनलालगंज सूर्यकांत त्रिपाठी व अन्य अधिकारी मौजूद रहे। जिलाधिकारी माध्यमिक विद्यालय में पहुंचे तो वहां प्रधानाध्यापिक सुनीता पांडेय व सहायक अध्यापिकाएं मिलीं। उन्होंने कक्षा पांच के बच्चों के विद्यार्थियों को बुलाकर किताब पढ़वाई और कुछ प्रश्न पूछे, जिसका बच्चों ने सही जवाब दिया। पानी की टोटी नहीं थी। शौचालय के आसपास घास उगी थी। बच्चों का शौचालय बहुत गंदा था। भीषण दुर्गंध आ रही थी। इस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई। उन्होंने प्रधानाचार्य एवं बीएसए को तत्काल सफाई के लिए निर्देशित किया।

खाने, स्वेटर और जूते के बारे में पूछा 

जिलाधिकारी ने बच्चों से खाने के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि तहरी, सब्जी, रोटी, खीर एवं राजमा, चावल खाने में दिन के अनुसार मिलता है। एक दिन फल दिया जाता है। इसके अलावा स्वेटर और जूते के बारे में पूछा तो बच्चों ने बताया कि मिल चुके हैं। 

टूटी थी खिड़कियां, सहायक जिला बेसिक शिक्षाधिकारी से मांगा स्पष्टीकरण 

निरीक्षण में कक्ष की खिड़कियां और टूटी मिलीं। पीछे खाली स्थान पर झाडिय़ां उग आई थीं। इसके अलावा एमडीएम का स्थान भी खुला था। पूछने पर बताया गया कि टिन शेड पडऩा है अभी तक लग नहीं सका है। इस पर जिलाधिकारी ने तत्काल खामियों को दूर कर ठीक कराने हेतु निर्देश दिए। इस संबंध में जिलाधिकारी ने सहायक जिला बेसिक शिक्षाधिकारी राम नारायण सिंह से स्पष्टीकरण मांगा है। 

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस