लखनऊ, जेएनएन। Lucknow Coronavirus News : कोरोना संक्रमण में तेजी आने के साथ ही साथ लोकबंधु के कोविड अस्पताल के आइसीयू में एक बार फिर से कोरोना के गंभीर मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है। इसके साथ ही लोहिया और केजीएमयू का आइसीयू भी लगभग फुल चल रहा है। 30 बेड वाले लोकबंधु के आइसीयू में पिछले दो माह से सिर्फ एक दो मरीज ही भर्ती हो रहे थे, लेकिन पिछले दो-तीन दिनों के दौरान मरीजों की संख्या बढ़ने से अब यहां 10 से 12 मरीज हो गए हैं। इन मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है। 

वहीं, कोरोना वार्ड में मरीजों की संख्या महीने भर से 65 से 70 के आसपास ही बनी हुई है। डॉक्टरों के अनुसार कोरोना मरीजों में सांस की तकलीफ अधिक बढ़ने की वजह वायरस संक्रमण के साथ मौसम भी है। जो मरीज पहले से सांस की बीमारी से ग्रस्त थे या बुजुर्ग हैं, उनका ऑक्सीजन स्तर ज्यादा चिंताजनक हो रहा है। इसलिए उन्हें आइसीयू में रखने की जरूरत पड़ रही है। ऐसे मरीजों को अलग-अलग लीटर के ऑक्सीजन सपोर्ट पर रख कर उपचार किया जा रहा है। 

फिलहाल, लोकबंधु अस्पताल में ऑक्सीजन सिलिंडर बाहर से मंगाए जा रहे हैं। शासन के प्रयास से यहां पर नया ऑक्सीजन प्लांट बनाने पर भी काम हो रहा है। लोकबंधु अस्पताल के डॉक्टर संजीव कुमार कहते हैं कि यदि किसी मरीज का ऑक्सीजन स्तर 95 के ऊपर रहता है तो वह ठीक है। इसका स्तर उसके नीचे आने पर चिंताजनक स्थिति हो सकती है। इसलिए ऑक्सीजन की आपूर्ति बनाए रखने के लिए सिलिंडर के जरिए सप्लाई की जाती है। कोरोना संक्रमण होने की स्थिति में फेफड़ों में संकुचन के कारण मरीज पूरी ऑक्सीजन प्राकृतिक रूप से नहीं ले पाता है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021