लखनऊ, जेएनएन। Lucknow Building Collapse वजीरहसन रोड स्थित पांच मंजिला अलाया अपार्टमेंट मंगलवार शाम करीब साढ़े छह बजे अचानक ढ़ह गया था। एसडीआरएफ और एनडीआरएफ के साथ सेना करीब 15 घंटों से रेस्‍क्‍यू आपरेशन कर 15 लोगों को सुरक्ष‍ित बचाया है। अभी भी कुछ लोग फंसे हुए हैं। ज‍िनसे फोन पर बातचीत की जा रही है। साथ ही आक्‍सीजन सपोर्ट भी द‍िया जा रहा है।

सपा व‍िधायक शाह‍िद मंजूर के बेटे पर दर्ज हुई गैर इरादतन हत्‍या की FIR

अलाया अपार्टमेंट मामले में हजरतगंज कोतवाली में तैनात वरिष्ठ उपनिरीक्षक की तहरीर पर तीन लोगों के खिलाफ नामजद एफआइआर दर्ज की गई है। आरोपितों में मोहम्मद तारिक, सपा व‍िधायक शाह‍िद मंजूर का बेटा नवाजिश शाह‍िद और फाहद याजदानी का नाम शामिल है। तीनों के ख‍िलाफ आइपीसी की 323, 308, 420, 120B धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है।

सीएम योगी ने सात द‍िन में मांगी जांच र‍िपोर्ट

अपार्टमेंट गिरने का मामला में मुख्यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ ने जांच के आदेश द‍िए हैं। जांच के ल‍िए तीन सदस्यीय टीम का गठन क‍िया गया है। ज‍िसमें मंडलायुक्त रोशन जैकब, संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून एवं व्यवस्था और चीफ इंजीनियर पीडब्ल्यूडी शाम‍िल हैं। टीम एक सप्ताह में सीएम योगी को हादसे की र‍िपोर्ट सौंपेगी।

कमिश्नर रोशन जैकब ने जानकारी देते हुए बताया था क‍ि सपा व‍िधायक शाहिद मंजूर के बेटे समेत तीन के खिलाफ मुकदमा लिखाए जाने का आदेश दिया गया है।

बता दें क‍ि हादसे के वक्त अपार्टमेंट में कई लोग मौजूद थे। मलबे में करीब 30 से ज्यादा लोग दब गए थे। रेस्क्यू के लिए एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीम बुलाई गई थी। सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। अपार्टमेंट में कुछ दिन से मरम्मत और पाइप लाइन का काम चल रहा था।

अपार्टमेंट अचानक जमींदोज कैसे हो गया, ये अभी तक स्पष्ट नहीं हो सका है। बिल्डिंग का निर्माण यजदान बिल्डर्स ने किया था। अलाया अपार्टमेंट में कुल 14 परिवार रहते थे। मंगलवार शाम करीब साढ़े छह बजे अचानक अपार्टमेंट भरभराकर गिर गया। भीतर मौजूद लोगों की चीख मलबे में दब गई। वहीं, आसपास मौजूद लोगों में भगदड़ मच गई थी।

Edited By: Prabhapunj Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट