लखनऊ, जेएनएन। एक ओर जहां मस्ती और उल्लास का पर्व लोहड़ी को लेकर सिख समाज तैयारियोंं में लगा है तो दूसरी ओर उसी दिन संतान की समृद्धि की कामना के पर्व सकट को लेकर भी बाजार तैयार हैं। दोनों ही त्योहार 13 जनवरी को ही पड़ेंगे। शाम होते ही लोहड़ी की मस्ती के बीच श्रद्धा का भाव नजर आएगा। 

परिवार की कुशलता, संतान सुख, समृद्धि और कष्टों को दूर करने का पर्व सकट को लेकर बाजारों में तिल के लड्डुओं के साथ ही पूजन में प्रयोग होने वाले अन्य सामग्रियों की दुकानें सज गई हैं। आलमबाग कोतवाली के पास और निशातगंज के अलावा डालीगंज समेत अन्य बाजारों में दुकाने ग्राहकों को अपनी ओर खींच रही हैं। विवाहित महिलाएं परिवार और बच्चों के ऊपर आने वाले संकटों को दूर करने के लिए सकट व्रत रखती हैं।

मान्यता है कि इस दिन श्री गणेश ने देवताओं के कष्ट दूर किए थे। भगवान शंकर उन्हें कष्ट निवारण देवता होने की संज्ञा भी दी थी। आचार्य अनुज पांडेय ने बताया कि यह पर्व श्री गणेश के पूजन का पर्व है। चंद्रमा के पूजन के इस पर्व को चंद्रोदय के समय के अनुसार लिया जाता है।

ऐसे होती है पूजा

आचार्य एसएस नागपाल ने बताया कि गुड़ या चीनी की चाशनी में काले तिल को मिलाकर उसका लड्डू बनाया जाता है। दिनभर निर्जला व्रत रखने वाली महिलाएं रात्रि को श्री गणेश के आह्वान के साथ चंद्रोदय के समय पूजन करती हैं। पूजन के दौरान तिल के बने लड्डुओं का भोग चढ़ाया जाता है। पूजन के उपरांत तिल के लड्डुओं के अलावा गुड़ के बने रामदाना, लइया, मूंगफली के लड्डुओं के साथ गजक को भी चढ़ाया जाता है।

पारंपरिक गीतों के साथ मनेगी लोहड़ी

लोहड़ी का नाम आते ही मन में खुशी और उल्लास का दृश्य आंखों के सामने आ जाता है। ढोल ताशे पर भांगड़ा और गिद्दा का मनोरम दृश्य का सुखद अहसास पर्व को लेकर आस्था और विश्वास को और प्रगाढ़ करता है। अवध की तहजीब में उसी संस्कृति और परंपरा का एहसास कराने वाला पर्व लोहड़ी मनाई जाएगी। नव दंपति और संतान सुख की प्राप्ति की खुशी इस पर की मस्ती को दोगुना कर देती है। लखनऊ गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह बग्गा ने बताया कि गुरुद्वारा नाका ह‍िंडोला में विशेष दीवान के साथ ही सभी गुरुद्वारों में विशेष दीवान सजेगा। नई शादी और नव दंपति इस पर्व को खास तरीके से मनाते हैं। 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस