लखनऊ, जेएनएन। Lucknow Coronavirus News Update: प्रदेश के साथ साथ राजधानी लखनऊ में कोरोना का प्रकोप बढ़ गया है। बुधवार को कई इलाकों में 65 नए मरीज पाए गए। वहीं डेथ ऑडिट में तीन और मौतों का इजाफा हुआ। साथ ही 190 पुराने कोरोना के और मरीज शहर में जोड़े गए। ऐसे में शहर में मरीजों का आंकड़ा अब 1696 पहुंच गया है। वहीं रायबरेली के निराला नगर मोहल्ले में चार दिन पहले मिले कोरोना संक्रमित कैंसर पीड़ित युवक की बुधवार देर रात इलाज के दौरान मौत हो गई। साथ ही कोरोना के दो नए मामले भी सामने आए हैं। इसके अलावा हरदोई में छह नए कोरोना पाॅजिटिव मिले हैं। 

हरदोई में छह और निकले पॉजिटिव

हरदोई। कोरोना के संक्रमण की रफ्तार और तेज हो गई है। बुधवार की शाम को 14 पॉजिटिव निकलने के बाद देर रात आई रिपोर्ट में 6 और पॉजिटिव निकले है। जिसमे पांच संडीला के और एक बिलग्राम के ककराखेडा का है। इनमे चार लोग डोमेस्टिक ट्रेवेल के हैं और दो लोग रेंडम सेलेक्शन के हैं। अब जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 277 पहुँच गई है। जिसमें 213 कोरोना मुक्त होकर घर जा चुके हैं।

रायबरेली में कैंसर पीड़ित संक्रमित की मौत, सामने आए 2 नए केस 

जिले के निराला नगर मोहल्ले में 4 दिन पहले मिले कोरोना संक्रमित कैंसर पीड़ित युवक की बुधवार की रात इलाज के दौरान मौत हो गई। वहीं जिले में दो नए मामले भी सामने आये हैं। निराला नगर मोहल्ले में रहने वाला एक युवक कैंसर से पीड़ित था लगातार उसका इलाज चल रहा था। इसी बीच वाह कोरोना की जद में आ गया जांच रिपोर्ट आने के बाद अभी चार दिन पहले ही उसे एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया था। जहां बुधवार की रात उसने दम तोड़ दिया। उधर, हाल ही में नगर पालिका परिषद के संक्रमित पाए गए लिपिक के बेटे  की जांच रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई। इसके अलावा लालगंज कोतवाली क्षेत्र के अंबारा पश्चिम गांव का एक युवक संक्रमित पाया गया  स्वास्थ्य एवं शिक्षा अधिकारी डीएस अस्थाना ने बताया कि कैंसर पीड़ित युवक मौत हुई है। प्रोटोकॉल के तहत उसके सव का अंतिम संस्कार होगा पॉजिटिव मिले नए मरीजों को कोविड-19 अस्पताल भेजा जा रहा है। 

राजधानी लखनऊ में 11 मार्च को कोरोना का पहला केस आया। इस दौरान जमातियों से वायरस का एकाएक विस्तार हुआ। कई प्रदेशों के मरीज यहां दर्ज किए गए। वहीं राज्य के विभिन्न जनपदों के मरीजों का इलाज भी राजधानी में हुआ। ऐसे में शहर के कोरोना के आंकड़ें समय-समय पर अपडेट होते रहे। मंगलवार को शहर में 1441 कोरोना के नए मरीज रहे। वहीं अभी तक 22 मौतें रहीं। वहीं अपडेट आंकड़ों में 190 शहर में कोरोना के करीब और जोड़े गए। लिहाजा, मरीजों की संख्या शहर में 1631 हो गई। इसके अलावा बुधवार को नए मरीजों की संख्या 65 रही। ऐसे में अब कुल मरीज 1696 हो गए हैं। वहीं डेथ ऑडिट में मृतकों की संख्या भी 22 से बढ़कर 25 हो गई है। वहीं अब तक शहर व विभिन्न जनपदों के कुल 1988 मरीजों का राजधानी के अस्पतालों में इलाज हुआ।

 

शहर में अब तक 61 हजार मरीजों के टेस्ट

सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल के मुताबिक शहर में रेंडम, रैपिड टेस्ट के अलावा सैंपल संग्रह का दायरा भी बढ़ा दिया गया है। अब सात सौ से नौ के बीच रोज सैंपल संग्रह किए जा रहे हैं। प्रवासी मजदूरों की भी बड़ी तादाद में जांच कराई गई है। ऐसे में मार्च से अब तक 61 हजार सैंपल टेस्ट करने का आंकड़ा आया है। वहीं अब जांच का दायरा और बढ़ाया जाएगा। रोजाना पोर्टल पर अपडेट किया जा रहा है। बुधवार 850 मरीजों का सैंपल संग्रह किया गया।

 

15 इलाकों में पाए गए मरीज, 23 ने जीती जंग

शहर में बुधवार को 15 इलाकों में वायरस पाया गया है। इसमें 102 एंबुलेंस के आठ कर्मी, कारागार मुख्यालय के तीन, मंडी परिषद के चार, आलमबाग के सात, इंदिरा नगर के 13, वृंदावन योजना के दो, ठाकुरगंज के चार, राजाजीपुरम के चार, चौक के दो, पारा के दो, अलीगंज के एक, गोमती नगर के चार, रायबरेली के तीन, महानगर के पांच, कल्याणपुर के दो, अलीगंज दो मरीज पाए गए। इसके अलावा केजीएमयू, लोहिया संस्थान, साढ़ामऊ समेत विभिन्न अस्पतालों के 23 मरीज डिस्चार्ज किए गए हैं। यह मरीज दिन क्वारंटीन किए गए।

लखनऊ में बढ़ रहे मरीज कोरोना के मरीज

राजधानी में लगातार कोरोना के बढ़ते मरीजों ने शहरवासियों की चिंता बढ़ा दी है। सरकारी अस्पतालों से लेकर कार्यालयों तक कोरोना के मरीज मिलने से लोगों में डर का माहौल बना हुआ है। बुधवार को शहर के कई अस्पतालों सहित कार्यालयों में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के मिलने की पुष्टि हुई है।

बुधवार को बलरामपुर अस्पताल में सीटी स्कैन कराने आए एक मरीज सहित लोकबंधु अस्पताल में एक महिला डॉक्टर की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं, झलकारीबाई,  इंदिरानगर व अलीगंज स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में कुल चार गर्भवती मरीजों में कोरोना निकला। हालांकि, इंदिरानगर यूसीएचसी की एमएस डॉ. रश्मि गुप्ता ने बताया कि अस्पताल परिसर को सैनिटाइजेशन के 24 घंटे के बाद बुधवार को 12 बजे के बाद खोल दिया गया। साथ ही मरीज की सूचना भी सीएमओ को दे दी गई है। 

उधर, जवाहर भवन के पांचवें तल पर स्थित नागरिक सुरक्षा निदेशालय के बगल में स्थित लखनऊ एलआइयू कार्यालय में भी एक कोरोना मरीज मिला। सिविल डिफेंस में ज्वाइंट डायरेक्टर अमिताभ ठाकुर ने बुधवार को बताया कि पूरे कार्यालय परिसर को सैनिटाइज कराने के लिए अगले दो दिन तक कार्यालय को बंद कराया गया। अब निदेशालय 13 जुलाई को खुलेगा।

 

वहीं, जवाहर भवन-इंदिरा भवन कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष सतीश कुमार पांडेय ने बताया कि बुधवार को एलआइयू कार्यालय में कोरोना के मरीज की जानकारी के बाद दोनों भवनों के समस्त कर्मचारियों में भय का माहौल बना हुआ है। जिसे देखते हुए दोनों भवनों को सैनिटाइज कराने के नगर स्वास्थ्य अधिकारी को पत्र लिखकर सूचित किया गया है। उन्होंने बताया कि  बीते चार-पांच दिन पहले इंदिरा भवन में भाषा संस्थान कार्यालय में एक महिला कर्मचारी में कोरोना की पुष्टि के बाद नगर स्वास्थ्य अधिकारी व राज्य संपत्ति अधिकारी को टेलीफोन पर पूरे परिसर को सैनिटाइज कराने की सूचना दी गई थी। बावजूद इसके नगर निगम के कर्मचारियों ने कोई ध्यान नहीं दिया। सिर्फ कॉरिडोर में दवा छिड़ककर चले गए। उन्होंने मांग की है कि दोनों भवनों को सैनिटाइज कराने सहित रोटेशन में कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाए।

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस