लखनऊ, जेएनएन। केजीएमयू के एक कर्मी ने महिला कर्मचारी का अश्लील वीडियो वाट्सएप ग्रुप पर डाल दिया। कर्मी ने कर्मचारी वाट्स एप ग्रुप पर ही ये वीडियो डाल दिया। वीडियो देखकर आक्रोशित महिला ने एडमिन से कई बार पोस्ट हटाने के लिए कहा, जिसके बाद भी एडमिन ने वीडियो नहीं हटाई। 

यह है मामला 
मामला केजीएमयू का है यहां के एक कर्मचारी ने अपनी सह कर्मी का अश्‍लील वीडियो एक अश्‍लील वीडियो डाल दिया। अपना वीडियो देखकर महिला कर्मी नाराज हो गई। उसने ग्रुप एडमिन से वीडियो हटाने के लिए कहा, लेकिन उसने महिला की एक नहीं मानी। लगभग घंटे भर तक महिला फोन और मैसेज करके वीडियो हटाने के लिए कहती रही। इसके बाद जब उसने एडमिन को साइबर क्राइम में मुकदमा दर्ज करने की धमकी दी तब जाकर उसने वीडियो हटाया। 

वीसी ऑफिस में तैनात है आरोपित 
केजीएमयू में कर्मचारियों का एक ग्रुप है बना है। इस ग्रुप में करीब 243 से ज्यादा सदस्य जुड़े हैं। इनमें 120 से अधिक महिला कर्मचारी हैं। बताया जा रहा है कि आरोपित कर्मी वीसी ऑफ‍िस में तैनात है। इसके बाद हरकत में आए एडमिन ने कर्मचारी को ग्रुप से निकाल दिया।  

क्या कहते हैं जिम्मेदार 
केजीएमयू के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह के मुताबिक कर्मचारियों के लिए केजीएमयू द्वारा कोई अधिकृत ग्रुप नहीं बनाया गया। यदि महिला कर्मी शिकायत करती हैं, तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Divyansh Rastogi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप