लखनऊ, राज्य ब्यूरो। UP Assembly Monsoon Session 2022 विधान परिषद में गुरुवार को निर्दलीय समूह व शिक्षक दल ने अशासकीय सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों तथा अनुदानित महाविद्यालयों के शिक्षकों एवं कर्मचारियों के कैशलेस चिकित्सा सुविधा प्रदान करने का मामला उठाया।

राजबहादुर सिंह चन्देल, डा. आकाश अग्रवाल व शिक्षक दल के सुरेश कुमार त्रिपाठी व ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने कहा कि कैशलेस इलाज की सुविधा से अब केवल शिक्षक व कर्मचारी वंचित रह गए हैं। नेता सदन केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सरकार शिक्षकों के मुद्दे पर संवेदनशील है। उचित समय पर इस मसले पर भी कार्रवाई की जाएगी। सभापति कुंवर मानवेन्द्र सिंह ने कार्यस्थगन अस्वीकार कर दिया। 

वहीं, बसपा के भीमराव अम्बेडकर ने सरकारी सेवाओं की भर्तियों में आरक्षित वर्ग के साथ बड़े पैमाने पर अन्याय होने का आरोप लगाते हुए कहा कि 69 हजार शिक्षक भर्ती में भी बड़ी गड़बड़ हुई है। अनुसूचित जाति व अन्य पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों के साथ अन्याय हुआ है। लाखों अभ्यर्थी हताश व निराश हैं।

नेता सदन केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि 69 हजार शिक्षकों की भर्ती का मामला न्यायालय में विचाराधीन है इसलिए यहां चर्चा कराना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार बिना किसी भेदभाव के काम कर रही है, किसी के साथ भी अन्याय नहीं होने देंगे।

प्रयागराज के इंडियन गर्ल्स इंटर कालेज को बचाने की मांग

शिक्षक दल के नेता सुरेश कुमार त्रिपाठी एवं ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने प्रयागराज स्थित इंडियन गर्ल्स इंटर कालेज की भूमि को अवैध रूप से बेचे जाने का मामला उठाया। उन्होंने सरकार से मांग की कि इस विद्यालय को बिकने से बचा लीजिए। नेता सदन ने कहा कि यहां के प्रबंधतंत्र को भंग कर प्राधिकृत नियंत्रक नियुक्त कर दिया गया है। इसमें किसी को भी गड़बड़ी नहीं करने दी जाएगी।

Edited By: Prabhapunj Mishra