लखनऊ, जेएनएन। लखनऊ से दिल्‍ली के बीच शुरू हुई तेजस ट्रेन को शुक्रवार सुबह नौ बजकर 55 मिनट पर हरी झंडी दिखाकर मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने रवाना किया। उन्‍होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि स्वस्थ प्रतिस्पर्धा से नयापन आता है। तेजस नयेपन का प्रतीक है, प्लेन जैसी ट्रेन है तेजस। इसके लिए आईआरसीटीसी बधाई का पात्र है। यूपी पहली तेजस ट्रेन का गवाह बना है। लखनऊ से दिल्ली की यात्रा अब शानदार होगी।

आगरा से वाराणसी तक बुलेट ट्रेन चले तो हम देंगे जमीन: मुख्‍यमंत्री 

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि आगरा से वाराणसी तक फास्ट ट्रेन कॉरीडोर बनाया जाए। यदि रेलवे आगरा से लखनऊ होकर वाराणसी तक बुलेट ट्रेन चलाएगी तो राज्‍य सरकार इसके लिए जमीन देगी। जमीन का खर्चा राज्य सरकार उठाएगी। साथ ही इको टूरिज्म प्लेसेज पर टॉय ट्रेन चलाई जानी चाहिए। इसके लिए राज्य सरकार करेगी पूरी मदद करेगी। 

समारोह मेें उनके साथ विकास मंत्री आशुतोष टंडन, महिला कल्‍याण मंत्री स्‍वाती सिंह, जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह मौजूद रहे। लखनऊ जंक्‍शन पहुंचने के बाद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने ट्रेन की तैयारियों का जायजा लिया। साथ ही ट्रेन के अंदर घूमकर सुविधाओं का निरीक्षण किया। उन्‍होंने ट्रेन में बैठे यात्रियों का अभिवादन भी किया। लखनऊ से नई दिल्‍ली के बीच पहले सफर में लगभग 400 यात्री सफर के लिए रवाना हुए। 

लखनऊ जंक्‍शन मंच पर मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ साढ़े नौ बजे पहुंचे। उनके साथ नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन, महिला कल्‍याण मंत्री स्‍वाती सिंह, जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह मौजूद रहे। मंच पर पहुंचकर दीप प्रज्‍ज्वलित किया। 

सजाया गया स्‍टेशन  

रवानगी से पहले लखनऊ जंक्‍शन पर जोरो शोरों से तैयारियां की गई। प्‍लेटफॉर्म पर रेड कारपेट बिछाया गया था। तेजस को फूलों से सजाया गया। हर बोगी में सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए। ट्रेन में सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम किए गए। खास बात ये है कि इस ट्रेन में कैप्‍टन से लेकर क्रू तक सभी महिलाएं हैं। इनका ड्रेस कोड भी ब्‍लैक और येलो कलर का है। रवानगी से पहले सभी स्‍टाफ ने ट्रेन के आगे सेल्‍फी ली। 

यात्रियों ने ली सेल्‍फी 

ट्रेन में यात्रियों का आना सुबह से ही शुरू हो गया था। सभी यात्री पहली बार इस कॉरपोरेट ट्रेन में बैठने को लेकर काफी उत्‍साहित नजर आए। यात्रियों को ट्रेन में बैठने से पहले कड़ी सुरक्षा और चेकिंग से गुजरना पड़ा। खासतौर पर बच्‍चे ट्रेन में बैठने को लेकर काफी उत्‍साहित नजर आए। यात्रियों और बच्‍चों ने भी ट्रेन के साथ सेल्‍फी ली।  

यात्रियों ने लिए करंट टिकट 

रेलवे बोर्ड चेयरमैन विनोद यादव भी मौके पर पहुंचे और उद्घाटन की तैयारियों का जायजा लिया। प्‍लेटफॉर्म पर करंट टिकट का काउंटर भी लगाया गया। जिसमें यात्रियों को करंट टिकट उपलब्‍ध कराया गया। शुक्रवार को चेयर कार का किराया1600 और एग्जीक्यूटिव क्लास का 2310 रुपये है। 

17 साल का ट्रेन चलाने का अनुभव 

लखनऊ से नई दिल्ली जाने वाली तेजस एक्सप्रेस को लोको पायलट सुबोध कुमार, सहायक पायलट प्रशांत श्रीवास्तव लेकर जा रहे हैं इनके साथ स्टैंडबाई में राकेश भारती और अखिलेश कुमार हैं। इसके अलावा गार्डअतुल दीक्षित भी मौजूद हैं । सुबोध कुमार को करीब 17 साल का ट्रेन चलाने का अनुभव है। इसके साथ ही अभी तक सुबोध वैशाली एक्सप्रेस, गोरखधाम एक्सप्रेस, सप्त क्रांति एक्सप्रेस, गोरखपुर इंटरसिटी सहित करीब दो दर्जन ट्रेनें चला चुके हैं। इनकी कार्यकुशलता सतर्कता और सिगनलिंग में महारत हासिल होने के कारण इनको यह अवसर  दिया गया है। वहीं, उद्घाटन से पहलेे पूजा भी की गई। 

नौ घंटे बंद होगा कैब वे 

ट्रेन उद्घाटन लखनऊ के प्लेटफॉर्म नंबर छह से होगा। इसके लिए कैब-वे सुबह पांच से दोपहर 12 बजे तक बंद रहेगा। रेलवे बोर्ड चेयरमैन विनोद यादव समेत तमाम बड़े रेल अफसर, सांसद, मंत्री, विधायक मौजूद रहेंगे। उन्होंने बताया कि तेजस बेहतर सुविधाओं के साथ नारी सशक्तिकरण की भी मिसाल पेश करेगी। इसमें ट्रेन कैप्टन से लेकर क्रू स्टाफ तक महिला ही हैं। 

शुरुआती किराया

लखनऊ से नई दिल्ली का एसी चेयरकार का शुरुआती किराया 1125 और वापसी में 1280 रुपये होगा। एग्जीक्यूटिव क्लास में लखनऊ से नई दिल्ली का किराया 2310 और वापसी में 2450 रुपये होगा। वापसी में डिनर के चलते किराया अधिक होगा।

पहली बार मिलने वाली सुविधाएं

एक घंटे लेट होने पर 100 और दो घंटे लेट होने पर 250 रुपये मुआवजा 

सब पेपरलेस, आरक्षण चार्ट की जगह टीटीई के पास हैंड हेल्ड डिवाइस

चेयरकार का टिकट 3295 व एक्जीक्यूटिव का किराया 4325 रुपये 

 6:15 घंटे में लखनऊ से नई दिल्ली 504 किलोमीटर की दूरी तय करेगी

यात्रियों को नि:शुल्क 25 लाख रुपये का बीमा मिलेगा

सामान का बीमा अलग, सामान घर से बोगी तक पहुंचाने की सुविधा

लखनऊ व नई दिल्ली में यात्रियों की डिमांड पर मीटिंग के इंतजाम

चाय एवं अल्पाहार के अलावा वापसी में रात्रि भोजन की व्यवस्था

ऑन-बोर्ड आतिथ्य सेवाएं प्रशिक्षित महिला एवं पुरुष कर्मचारी देंगे

खासियत का खजाना तेजस 

  • मूविंग टॉकीज, सहित विश्वस्तरीय ट्रेनों के फीचर
  • धूम्रपान पर बजेंगे अलार्म, लगेगा ऑटोमैटिक ब्रेक
  • हर सीट पर होगा अटेंडेंट बुलाने को बटन
  • पढ़ाई के लिए रीडिंग बटन की सुविधा
  • बटन से खुलेंगे-बंद होंगे खिड़की के पर्दे
  • बोगी के दोनों छोर पर सेंसर युक्त स्लाइडिंग दरवाजे
  •  करीब पहुंचने पर खुद ही सेंसर डोर खुल जाएंगे
  • करीब जाते ही खुद खुल जाएंगी सेंसर वाली डस्टबिन
  • संदिग्धों पर नजर रखेंगे बोगी में लगे छह सीसी कैमरे
  • चेन की जगह इमरजेंसी में ट्रेन रोकने के लिए हैंडल
  • ऑटोमैटिक स्मोक एंड हिट डिटेक्शन अलार्म युक्त
  • बोगी में विजुअल और एनाउंस सिस्टम से देंगे सूचना
  • हर बोगी में एंटी ब्रेकिंग सिस्टम, पहिए जाम नहीं होंगे
  • ओएचई की बिजली बोगियों के लिए कनवर्ट होगी
  • शौचालय में कितना पानी है यह बताएगा इंडिकेटर
  • गार्ड के पास होगा गेट खोलने और बंद करने का बटन
  • हर बोगी में सूप व कॉफी बनाने के लिए मिनी किचन
  • बोगी में होंगे दो सेंट्रल टेबल, पब्लिक इन्फॉर्मेशन डिस्प्ले

 

यह होंगे नियम

  • चार्ट बनने पर टिकट वेटिंग रहने पर नहीं कटेगा कटौती शुल्क
  • चार घंटे पहले वेटिंग टिकट निरस्तीकरण पर 25 रुपये कटेंगे
  • रिफंड टीडीआर से नहीं, भुगतान आइआरसीटीसी सीधे करेगा
  • तेजस ट्रेन में कोई भी रियायती टिकट जारी नहीं होगा
  • डायनामिक फेयर व्यस्त, त्योहार, लीन सीजन के आधार पर
  • फरवरी, मार्च और अगस्त लीन सीजन, किराया कम होगा
  • तेजस में तत्काल/प्रीमियम तत्काल कोटा की सुविधा नहीं

 

कुछ खास जानकारी

  • 60 दिन पहले से ऑनलाइन बुकिंग
  • 05 वर्ष तक बच्चों का किराया नहीं
  • 05 वर्ष से अधिक पूरा किराया देय
  • 05 मिनट पहले तक करंट टिकट
  • 03 दिन पहले ऑनलाइन ग्रुप बुकिंग
  • 12 कोच की होगी तेजस ट्रेन 
  • 758 सीटें होंगी पूरी ट्रेन में 
  • 09 एसी चेयरकार बोगियां
  • 56 सीटें होंगी एग्जीक्यूटिव क्लास
  • 78 सीट की चेयरकार बोगी ग्रुप बुकिंग के लिए
  • 400 यात्री पहले दिन करेंगे सफर 

 

ऐसे दौड़ेगी तेजस 

चार अक्टूबर को तेजस स्पेशल सुबह साढ़े नौ बजे लखनऊ जंक्शन से चलकर 10:40 बजे कानपुर, दोपहर 3:03 बजे गाजियाबाद होकर शाम चार बजे नई दिल्ली पहुंचेगी। छह अक्टूबर से आइआरसीटीसी तेजस एक्सप्रेस मंगलवार को छोड़कर सप्ताह में छह दिन सुबह 6:10 बजे लखनऊ जंक्शन से चलाएगा। यह कानपुर सुबह 7:20 बजे, 11:45 बजे गाजियाबाद होते हुए दोपहर 12:25 पर नई दिल्ली पहुंचेगी। वापसी में दोपहर 3:35 बजे नई दिल्ली से चलकर शाम 4: 09 बजे गाजियाबाद, रात 8: 35 बजे कानपुर और रात 10: 05 बजे लखनऊ जंक्शन लौटेगी। 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस