PreviousNext

आइएएस अनुराग के बारे में यूपी सरकार ने कर्नाटक से मांगी जानकारी

Publish Date:Fri, 19 May 2017 09:52 PM (IST) | Updated Date:Sat, 20 May 2017 09:12 PM (IST)
आइएएस अनुराग के बारे में यूपी सरकार ने कर्नाटक से मांगी जानकारीआइएएस अनुराग के बारे में यूपी सरकार ने कर्नाटक से मांगी जानकारी
कर्नाटक के आइएएस अनुराग तिवारी की मौत का रहस्य सुलझाने के लिए यूपी ने कर्नाटक सरकार को पत्र लिखकर सूचनाएं मांगी हैं।

लखनऊ (जेएनएन)। कर्नाटक के आइएएस अनुराग तिवारी की मौत का रहस्य सुलझाने में जुटी पुलिस के लिए उनके राजधानी आने से लेकर कई अन्य सवाल पहेली बने हैं। जिन्हें सुलझाने के लिए एसएसपी दीपक कुमार ने कर्नाटक सरकार को पत्र लिखकर आइएएस अधिकारी अनुराग तिवारी के बारे में सूचनाएं मांगी हैं। अनुराग ने कितने दिन की छुट्टी ली थी और कब ज्वाइन करना था। इसकी सूचना कर्नाटक सरकार से मांगी गई है।

एसएसपी का कहना है कि एसआइटी कई बिंदुओं पर जांच कर रही है। मसलन, अनुराग लखनऊ क्यूं आए थे। वह ट्रेनिंग के बाद सीधे कर्नाटक वापस क्यों नहीं गए। मंगलवार रात उनकी किससे-किससे मुलाकात हुई और देर रात तक वह फोन व सोशल मीडिया पर किन लोगों के संपर्क में रहे। एलडीए वीसी प्रभु नारायण सिंह ने पुलिस जांच में अब तक पूरा सहयोग किया है। अनुराग के पास कितने फोन थे और उन्हें वापस कब जाना था। वह किन अन्य लोगों से मिले थे। इस बाबत उनसे और विस्तार से जानकारी हासिल की जाएगी। 

यह भी पढ़ें: Dubious death: आखिर किस तरह लखीमपुर, फतेहपुर, बस्ती और गोंडा में पांच मौतें

एम्स के डॉक्टरों को भी लिखा पत्र

एसएसपी ने एम्स के डॉक्टरों को भी पत्र लिखा है। उन्होंने अनुराग तिवारी के बिसरा, हार्ट व खून की फोरेंसिक जांच रिपोर्ट में उनकी एक्सपर्ट राय देने का आग्रह किया है।

यह भी पढ़ें: उछल कूद मचा रहे अपराधी जिस भाषा में समझेंगे समझाएंगेः योगी

फ्लाइट के टिकट की भी हो रही जांच  

अनुराग के कुछ करीबियों का कहना है कि उन्होंने कर्नाटक वापस जाने के लिए 20 हजार रुपये देकर टिकट बुक कराया था। पुलिस के मुताबिक इसकी जांच कराई जा रही है कि अनुराग ने किस दिन का टिकट बुक कराया था। अब तक उनके कोई टिकट बुक कराने की बात तस्दीक नहीं हो सकी है। 

यह भी पढ़ें: योगी के आगमन से पहले कानून-व्यवस्था को चुनौती दे रहे छह देशी बम

सीयूजी फोन का नहीं लगा सुराग 

अनुराग के सीयूजी मोबाइल फोन का अब तक कुछ पता नहीं लगा है। उनके पास आई-फोन था। बताया गया कि अनुराग का सीएयूजी फोन कर्नाटक में ही होने की बात भी सामने आ रही है। एसआइटी ने बुधवार सुबह मीराबाई मार्ग पर अनुराग तिवारी का शव पड़ा होने के दौरान मौके पर पहुंचे सिपाही हरवीर सिंह से भी पूछताछ की है। बताया गया कि हरवीर ने शव पड़ा होने की सूचना इंस्पेक्टर हजरतगंज को दी थी। 

मुख्यमंत्री से आज मिल सकते घरवाले 

आइएएस अनुराग तिवारी के घरवालों ने पूरे मामले को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करने के लिए शनिवार को वक्त मांगा है। वहीं प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर पूरे मामले की सीबीआइ जांच कराने की मांग की है। आइएएस अनुराग तिवारी के निधन से दुखी उनके बैचमेट एलडीए वीसी प्रभु नारायण सिंह तीन दिन के अवकाश पर हैं। वह सोमवार को कार्यभार ग्रहण करेंगे।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Information sought by UP government regarding IAS Anurag(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

सिद्धार्थनगर सीओ पर धनउगाही का आरोप, एसएसपी कराएंगे जांचराजन-साजन ने योगी आदित्यनाथ से मांगा काशी में कलाधाम