लखनऊ (जेएनएन)। राजधानी लखनऊ में खुद को सामाजिक चिंतक बताने वाले एक व्यक्ति पर भगवान श्रीराम पर अमर्यादित टिप्पणी का आरोप लगा है। लखनऊ विश्वविद्यालय में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्रनेता अजीत ने बुधवार को हजरतगंज कोतवाली में तहरीर देकर आरोप लगाया कि दिलीप सी मंडल ने फेसबुक पर भगवान श्रीराम के मर्यादा पुरुषोत्तम होने पर सवाल उठाए हैं, जिससे करोड़ों लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचा है। पुलिस ने मामले की जांच साइबर सेल को सौंपी है।

मुहर्रम के ताजिया जुलूस में करंट लगने से दो की मौत, 19 झुलसे

उधर, फीरोजाबाद के टूंडला में मंगलवार आधी रात को शराब के नशे में धुत युवक रामलीला के मंच पर पहुंच गया। उसने राम-लक्ष्मण के स्वरूपों से बदसलूकी कर उनके कपड़े फाड़ डाले। अन्य स्वरूपों ने बीच-बचाव का प्रयास किया, तो उनके साथ भी मारपीट कर दी। हंगामें के बाद पहुंची पुलिस ने उल्टे आयोजकों को ही हिरासत में ले लिया। इससे दर्शक भड़क उठे। आयोजकों को छोडऩे के बाद लीला का मंचन शुरू हुआ।

मुलायम ने सपाइयों को दी काम करने की नसीहत

फीरोजाबाद में पीएम के आपत्तिजनक फोटो से भड़का आक्रोश
फेसबुक पर सपा नेता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और हिंदू देवी-देवताओं की आपत्तिजनक फोटो तथा कमेंट पोस्ट कर दी। इससे फरिहा कस्बे में दो संप्रदायों के बीच तनाव फैल गया। बाद में दोनों ओर के प्रबुद्ध लोगों ने किसी तरह स्थिति को संभाला। सपा छात्र सभा के फरिहा नगर अध्यक्ष दानिश कुरैशी की आइडी से आपत्तिजनक फोटो शेयर किए गए। ये बुधवार सुबह से चर्चा में आ गए। इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दशानन के रूप में दिखाते हुए आरएसएस और भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं पर टिप्पणी शामिल थीं।

बुद्ध के बताए रास्तों पर चलने से नहीं होगी युद्ध की जरूरतः मायावती

वहीं, गाय और देवी पर अशोभनीय टिप्पणी वाले फोटो भी थे। इससे हिंदू समाज में आक्रोश पैदा हो गया। भाजपा कार्यकर्ता और हिंदू वाहिनी के पदाधिकारी भाजपा के पूर्व जिला महामंत्री आरडी सिंह चौहान के प्रतिष्ठान पर एकत्र हो गए। उनमें जबरदस्त आक्रोश था। जानकारी पर मुस्लिम समाज के लोग और सपा नेता भी पहुंच गए। इससे स्थिति तनावपूर्ण हो गई।

Posted By: Ashish Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस