लखनऊ, जागरण संवाददाता। गर्मियों छुट्टी में ट्रेन और बस में यात्रा करने वालों की संख्‍या में काफी इजाफा हो जाता है। इन द‍िनों ट्रेनें पूरी तरह पैके हैं ऐसे में रोडवेज बस सेवा बेहतर व‍िकल्‍प हो सकती हैं। रोडवेज की एसी बसों की डिमांड देहरादून, काठगोदाम, वाराणसी, गोरखपुर आदि जगहों के लिए खूब है। यात्रियों की भीड़ इस कदर है कि वातानुकूलित स्लीपर, वाल्वो, पवनहंस, जनरथ सेवाएं फुल चल रही हैं। बीती दस मई से राजधानी के आलमबाग और कैसरबाग बस स्टेशनों से प्रतिदिन आधा दर्जन बसों का संचालन किया जा रहा है। क्षेत्रीय प्रबंधक पल्लव बोस ने बताया कि ज्यादातर सेवाएं फुल हैं। इनमें सीट के लिए अग्रिम बुकिंग की भी सुविधा है।

  • लखनऊ से एसी बस सेवाएं

  • आलमबाग से वाराणसी के लिए सुबह आठ बजे, साढे़ ग्यारह बजे, तीन बजे और दस बजे वाल्वो कैटेगरी की बस सेवाएं उपलब्ध हैं। तकरीबन छह घंटे में वाराणसी पहुंचती हैं।
  • आमलबाग टर्मिनल से देहरादून के लिए स्लीपर कोच सेवा रात आठ बजे रवाना होगी। सुबह आठ बजे देहरादून पहुंचेगी। वापसी में देहरादून से शाम छह बजे चलकर दूसरे दिन सुबह छह बजे आलमबाग आएगी। भीड़ देखकर दो गाड़ियां लगाई गई हैं।
  • आलमबाग से काठगोदाम रात 11:15 बजे बस काटगोदाम के लिए रवाना होगी। सुबह साढे़ सात बजे काठगोदाम पहुंचेगी। वापसी में काठगोदाम से रात आठ बजे होगी। अगले दिन सुबह साढे़ पांच बजे आलमबाग बस टर्मिनल आएगी।
  • कैसरबाग से देहरादून के लिए जनरथ सेवा शाम छह बजे। अगले दिन सुबह छह बजे देहरादून पहुंचेगी। दूसरे दिन शाम चलकर हरिद्वार से शाम छह बजे रवाना होगी। दूसरे दिन सुबह छह बजे कैसरबाग में हाल्ट करेगी।
  • कैसरबाग से वाल्वो बस शाम सात बजे रवाना होकर अगले दिन सुबह सात बजे देहरादून पहुंचेगी। देहरादून से शाम छह बजे चलकर अगले दिन सुबह छह बजे बजे कैसरबाग बस स्टेशन पहुंचेगी।
  • कैसरबाग बस स्टेशन से पिंक कैटेगरी की बस रात नौ बजे चलेगी। अगले दिन सुबह नौ बजे देहरादून पहुंचेगी। वापसी में देहरादून से शाम सात बजे चलकर अगले दिन सुबह सात बजे कैसरबाग पहुंचेगी। लखनऊ से देहरादून का किराया 1130 रुपए है। लखनऊ से देहरादून का जनरथ बस का किराया 912 है।

सामान्य सेवाएं भी हैं : सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक डीके गर्ग ने बताया कि कैसरबाग से दो साधारण बसें रोज हरिद्वार के लिए चलाई जा रही हैं। एक बस कैसरबाग से अपराह्न एक बजे रवाना होती है जो देर रात एक बजे हरिद्वार पहुंचती है। गंगा में स्नान-ध्यान कर मंदिरों का दर्शन कर वापस आ सकते हैं। दूसरी बस कैसरबाग से दोपहर ढाई बजे चलती है। भोर करीब ढाई बजे हरिद्वार पहुंचती है। आलमबाग बस टर्मिनल से शाम चार बजे रवाना हाेती है। अगर समय से नहीं पहुंच पाया है तो शाम पांच बजे कैसरबाग बस स्टेशन से मिलती है। अगले दिन सुबह सात बजे देहरादून पहुंचकर वापसी करती है। देहरादून से शाम चार बजे चलकर अगले दिन सुबह पांच बजे कैसरबाग बस स्टेशन और छह बजे आलमबाग बस टर्मिनल पहुंचती है। वहीं एक साधारण सेवा जयपुर के लिए भी चलाई जाती है।

Edited By: Anurag Gupta