लखनऊ, जेएनएन : जापलिंग रोड निवासी इरशाद हसन की पत्नी ने उन पर मारपीट कर घर से भगाने और बच्चे छीनकर तीन तलाक के बाद धमकी का आरोप लगाते हुए हजरतगंज कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है। महिला का आरोप है कि पति ने उसकी कंपनी के पार्टनरशिप खाते से भी लाखों रुपये हड़प लिए। पति ने फर्म के खाते से 37 लाख रुपये निकाल लिए और 50 लाख की कार फाइनेंस करा ली।

इंस्पेक्टर हजरतगंज श्यामबाबू शुक्ला ने बताया कि पीडि़ता मूलरूप से कानपुर के रायपुरवा की रहने वाली है। उसने बताया कि वर्ष 2005 में उसकी मुलाकात इरशाद से हुई थी। इसके बाद इरशाद ने दोस्ती करके 2007 में शादी कर ली। शादी के बाद इरशाद अक्सर मारपीट कर उसे प्रताडि़त करने लगा। पति की हरकतों से त्रस्त होकर वह बच्चों के लेकर मायके चली गई। पति मायके पहुंचा और वहां से बच्चों को बहला-फुसला कर ले आए। जब वह बच्चों को लेने पति के पास जापलिंग रोड स्थित घर गई तो पति ने तीन तलाक दे दिया और बच्चे देने से मना कर दिया। पति के खिलाफ उसने मुकदमा दर्ज कराया था। पति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।

जमानत पर छूटने के बाद देने लगा धमकी

पीडि़ता का आरोप है कि पति जब जमानत पर छूटा तो वह फिर धमकी देने लगा था। महिला का यह भी आरोप है कि वह पति के साथ इंफोसल्यूशन फर्म में 50 फीसद की पार्टनर थी। पति ने फर्म के खाते से 37 लाख रुपये निकाल लिए और 50 लाख की कार फाइनेंस करा ली। इंस्पेक्टर ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

Edited By: Anurag Gupta