लखनऊ, जेएनएन। कुर्बानी का त्योहार ईद-उल-अजहा सोमवार को मनाया गया। त्योहार के मौके पर शहर की मस्जिदों की विशेष नमाज अदा की गई। हजारों नमाजियों ने एक साथ अल्लाह की इबादत कर दुआ में हाथ बुलंद किए। नमाजियों ने अमन कायम रहने के साथ मुल्क की तरक्की की दुआएं मांगी। नमाज बाद नमाजियों ने एक दूसरे को गले लगाकर ईद की मुबारकबाद दी।

बकरीद की नमाज की सबसे बड़ी जमात शहर की तीन मस्जिदों में हुई। इसमे ऐशबाग ईदगाह, आसफी मस्जिद व टीले वाली मस्जिद में हजारों नमाजियों ने एक साथ नमाज पढ़ी। ऐशबाग ईदगाह में मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने नमाज पढ़ाई। नमाज के बाद मौलाना ने खुदबे में ईद-उल-अजहा की फजीलत बयां की। मौलाना ने कहा कि आज का दिन कुर्बानी का दिन है और कुर्बानी अल्लाह को पसंद है। इस लिए जानवर की कुर्बानी देने से पहले इंसान को अपनी बुराइयों को कुर्बानी देनी चाहिए। कश्मीर में धारा &70 हटाई गई यह बहुत अ'छा हुआ। आवाम को अब जम्मू-कश्मीर की तरक्की के लिए पूरी ताकत लगा देनी चाहिए। हम पहले ङ्क्षहदुस्तानी है बाद में किसी धर्म के। सभी धर्मों का सम्मान करना चाहिए। इस मौके पर पहुंचे उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने सभी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह एतिहासिक स्थल है। हम ईदगाह में खड़े हैं दूसरी ओर रामलीला मैदान है। ङ्क्षहदु-मुस्लिम भाई चारा की मिसाल है। हमें सिर्फ देश की तरक्की के लिए सोचना है और काम करना है। जब देश तरक्की करेगा तो हमारी तरक्की भी होगी। इस दौरान मंडलायुक्त अनिल गर्ग, जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा, आइजी रेंज एसके भगत, एसएसपी कलानिधि नैथानी व भारी सुरक्षाबल मौजूद रहा।

उधर, बड़े इमामबाड़े की आसफी मस्जिद में इमामेजुमा मौलाना कल्बे जवाद ने बकरीद की नमाज पढ़ाई। इस दौरान बड़ी संख्या में नमाजी मौजूद रहें। नमाज बाद सबने वतन की तरक्की के लिए अल्लाह से दुआ मांगी।

इसी तरह टीले वाली मस्जिद में मौलाना सैय्यद फजलुल मन्नान रहमानी ने नमाज पढ़ाई। इसके बाद बार्डर पर तैनात सैन्य कर्मियों और उनके परिवारीजनों के लिए दुआ की। मुल्क के अमन चैन के लिए दुआ की गई। इसके बाद सभी ने एक दूसरे के गले लगकर बधाई दी।

शिया-सुन्नी ने साथ पढ़ी नमाज दिया एकता का पैगाम
शाहनजफ इमामबाड़े में शिया-सुन्नी ने एक साथ नमाज पढ़कर एकता का पैगाम दिया। यहां पर नमाज मौलाना नजबी मलमली नदवी ने पढ़ाई। इस दौरान बड़ी संख्या में महिलाएं और ङ्क्षहदु, सिक्ख और इसाई भी मौजूद रहें। सोल्डर टू सोल्डर संस्था के फैसल हुसैन ने बताया कि नमाज के बाद सभी ने एक दूसरे को गले लगकर बधाई दी।

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, विधान परिषद सभापति रमेश यादव, विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित, सपा अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर, नेता विधानमंडल दल अजय कुमार लल्लू, बसपा प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली, रालोद के प्रदेश अध्यक्ष डा. मसूद समेत कई प्रमुख नेताओं ने प्रदेशवासियों को ईद-उल-अजहा (बकरीद) की बधाई दी है।

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सभी देशवासियों और विशेषकर प्रदेशवासियों को बकरीद के अवसर पर हार्दिक शुभकामना देते हुए उनके सुखमय जीवन की कामना की है। आनंदीबेन ने अपने बधाई संदेश में कहा है कि यह त्याग और बलिदान के प्रति आदर व्यक्त करने वाला पर्व है। हजरत इब्राहिम की कुर्बानी की याद में मनाया जाने वाला पर्व वास्तव में ईश्वर की रजामंदी को प्राथमिकता देते हुए त्याग के मर्म को दर्शाता है। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बधाई संदेश में कहा कि ईद-उल-अजहा का त्यौहार सभी को मिल-जुल कर रहने तथा सामाजिक सद्भाव बनाए रखने की प्रेरणा प्रदान करता है। उन्होंने इस त्यौहार को शांति व आपसी सद्भाव के साथ मनाने की अपील की है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इसको त्याग, बलिदान एवं समर्पण का पर्व बताते हुये बधाई दी है। यादव ने कहा है कि हमें यह दिन मिल-जुलकर सौहार्द के साथ मनाना चाहिए।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप