लखनऊ [अजय श्रीवास्तव]। चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट के आसपास ऊंचे हो गए पेड़ और भवन विमानों के उड़ान भरने और उतरने के समय खतरा बन सकते हैं। पेड़ों की शाखाएं एयरपोर्ट की चहारदीवारी के अंदर तक आ गई हैं। यह संभावित खतरा किसी और ने नहीं बल्कि गूगल ने दिखाया है। मैप में पेड़ों का समूह साफ-साफ दिखाया गया है। संभावित खतरे को भांपते हुए प्रभागीय वनाधिकारी लखनऊ को पेड़ों की छंटाई के लिए तुरंत कहा गया है। हालांकि, वन विभाग फिलहाल शिथिल बना हुआ है।

चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा प्रबंधन समिति की बैठक में यह तथ्य सामने आए हैं। रिपोर्ट में एयरपोर्ट के पास ऊंचे पोल, हाईमास्ट और ऊंचे दस भवनों को दिखाया गया है। अब एलडीए को भवनों की ऊंचाई कम करने और नगर निगम को ऊंचे पोल और हाईमास्ट को हटाने का कहा गया है।

एयरपोर्ट परिसर के पूर्वी छोर पर 10 भवन ऐसे हैं, जिनकी ऊंचाई विमानों के आवागमन में खतरा है। पहले यह भवन 11 थे, जिसमें से एक की ही ऊंचाई कम की जा सकी है, जिसमें से तीन भवन स्वामियों ने एलडीए की ध्वस्तीकरण नोटिस के खिलाफ अपील दायर कर दी है। सात भवनों की उंचाई को कम किया जाना था, लेकिन पुलिस नहीं मिल सकी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि रनवे के पूर्वी छोर पर तमाम झुग्गी झोपड़ी बन गई हैं। यहां के रहने वाले लोग खाद्य पदार्थ और कूड़ा फेंकते हैं, इससे पक्षियों की संख्या भी बढ़ रही है। चिल्लावां गांव के आसपास कूड़े के ढेर और सप्ताह में तीन लगने वाली बाजार की गंदगी से आकषित होने वाले पक्षी विमानों के लिए खतरा बन सकते हैं। निदेशक एयरपोर्ट से कहा गया है कि रक्षा संपदा विभाग से बात कर जमीन का अधिग्रहण करने का प्रस्ताव तैयार किया जाए।

क्‍या कहते हैं जिम्‍मेदार 

  • अधिशासी अभियंता प्रवर्तन एलडीए कमलजीत सिंह ने बताया कि खतरा बने भवनों के ध्वस्तीकरण की तारीख 27 अगस्त निर्धारित की गई है। पूर्व में पुलिस बल न मिलने से कार्रवाई नहीं हो सकी थी।
  • प्रभागीय वनाधिकारी लखनऊ रवि सिंह ने बताया कि एयरपोर्ट चहारदीवारी के आसपास पेड़ ऊंचे होने की रिपोर्ट आई है। वन निगम को पेड़ों की छंटाई करने को कहा गया है। अभी यह निरीक्षण किया जा रहा है कि कुल कितने पेड़ हैं।
  • ओएसडी एयरपोर्ट अथॉरिटी व उपमहाप्रबंधक एसके नारायण ने बताया कि एयरपोर्ट के रनवे के आसपास बड़ी संख्या में पेड़ हैं। इन पेड़ों को हटाने के लिए मंडलायुक्त से शिकायत की गई थी। उन्होंने एलडीए की एक टीम को मौके पर भेजा था। बड़े पेड़ों से विमानों को खतरा बन सकता है।
  •  

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप