लखीमपुर खीरी, जेएनएन। उत्तर प्रदेश की बड़ी गन्ना बेल्ट लखीमपुर खीरी के किसानों के लिए बड़ी राहत वाली खबर है। यहां की बजाज ग्रुप की तीनों बड़ी चीनी मिलों ने किसानों के बकाया गन्ना का भुगतान प्रारंभ कर दिया है। चुनाव के मौसम में किसानों को बकाया रकम मिलने से उनके चेहरे पर चमक आएगी।

लखीमपुर खीरी में बजाज ग्रुप की तीनों चीनी मिलों ने किसानों के गन्ना का भुगतान शुरू कर दिया है। यहां पर गोला, पलिया और खंभारखेड़ा में बजाज की चीनी मिलें हैं। चीनी मिलों ने किसानों का लंबित बकाया भुगतान तेजी से शुरू से ही कर दिया है। इसके क्रम में बजाज हिंदुस्थान चीनी मिल पलिया ने 6720.635 लाख रुपये, बजाज हिंदुस्थान चीनी मिल गोला ने 6319.33 लाख रुपये और बजाज हिंदुस्थान चीनी मिल खम्भारखेड़ा ने 4003.62 लाख रुपये का भुगतान किसानों के खाते में भेज दिया है। इसके साथ ही तीनों मिले किसानों के अन्य सभी भुगतान को भी फरवरी तक कर देंगी। चीनी मिलें शासन के निर्देशो के अनुपालन में बकाया भुगतान कर रही है।

जिले की इन सभी तीनों चीनी मिलरों को छोड़कर जिले की बाकी छह चीनी मिलों ने अपना बकाया गन्ना भुगतान पहले देना शुरू कर दिया था। बजाज चीनी मिलों में भुगतान की रफ्तार का बेहद सुस्त होना चुनावी मौसम में विपक्ष के नेताओं का एक मजबूत मुददा भी बनता जा रहा था। जिला प्रशासन ने इससे पहले ही बजाज चीनी मिल के प्रबंधन पर मुकदमा दर्ज करा रखा था। किसान लगातार चीनी मिल के गेट में ताला डालने के साथ ही साथ मिल के बाहर और अंदर जोरदार नारेबाजी भी कर रहे थे।

बजाज हिंदुस्थान शुगर लिमिटेड पलिया ने फरवरी तक का भुगतान भेजा

चीनी मिल के यूनिट हेड प्रदीप कुमार सालार ने बताया कि विगत वर्ष गन्ना मूल्य भुगतान के मद में 67 करोड़ 20 लाख का भुगतान किसानों के खातों में भेज दिया है। जिसमें एक फरवरी तक का भुगतान शामिल है। उन्होंने क्षेत्र के सभी किसान भाइयों से अपील की है कि वह अपना सहयोग पूर्व की भांति बनाए रखें ,बकाया शेष भुगतान के लिए प्रयास किया जा रहा।  

Edited By: Dharmendra Pandey