गोंडा, संवादसूूूत्र। नगर पंचायत में धार्मिक स्थल के पास जमीन को लेकर रविवार को दो पक्ष आमने-सामने आ गए। पुलिस के सामने व्यापारी की पिटाई के बाद भड़के लोगों ने चार घंटे तक कर्नलगंज-तरबगंज-नवाबगंज मार्ग जाम रखा। बाद में पुलिस ने लाठीचार्ज करके मार्ग जाम को हटवाया। इस मामले में पुलिस ने 14 के खिलाफ मुकदमा कर चार लोगों को गिरफ्तार किया है।

धार्मिक स्थल के पास की जमीन पर दो पक्ष कब्जेदारी का दावा कर रहे हैं। इसका मुकदमा न्यायालय में चल रहा है। रविवार को पिलर को एक पक्ष सही करा रहा था, तभी दूसरा पक्ष रोकने पहुंच गया। आरोप है कि विवाद में राजेश व दिनेश कौशल की पिटाई कर दी गई। जैसे ही यह खबर अन्य व्यापारियों को मिली, सभी ने राम जानकी मंदिर के पास मार्ग जाम कर दिया।

मारपीट में घायल व्यापारी को सड़क पर लिटाकर प्रदर्शन कर रहे व्यापारी आरोपितों की गिरफ्तारी व विवादित जमीन से कब्जा हटवाने की मांग कर रहे थे। अधिकारियों ने प्रदर्शन कारियों को समझाने बुझाने का प्रयास किया लेकिन, बात नहीं बनी।

तिरंगा यात्रा लेकर पहुंचे कैसरगंज सांसद बृज भूषण शरण सिंह व विधायक अजय सिंह ने भी कार्रवाई का भरोसा दिलाया। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर जाम हटवाया। इसमें तीन के घायल होने की खबर है। एसओ शमसेर बहादुर सिंह ने हल्का बल प्रयोग करके भीड़ को तितर-बितर करने की बात कही है।

एसपी आकाश तोमर ने बताया कि प्रकरण में घायल व्यापारी की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है। चार को गिरफ्तार किया गया है। मौके पर एएसपी शिवराज कैंप कर रहे हैं। मार्ग जाम करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

छावनी बना रहा परसपुर : रविवार को परसपुर कस्बा पुलिस छावनी बना रहा। मार्ग जाम की सूचना के बाद एडीएम सुरेश कुमार सोनी, एएसपी शिवराज, एसडीएम हीरालाल, सीओ मुन्ना उपाध्याय के अतिरिक्त कर्नलगंज, उमरी सहित आधा दर्जन थानों की पुलिस बुला ली गई। पीएसी के जवानों को भी तैनात किया गया है।

जाम ने बढ़ाई मुश्किल : चार घंटे तक मार्ग जाम के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। लंबा जाम लगने के साथ ही व्यापारियों ने दुकानें भी बंद कर दी।

Edited By: Vrinda Srivastava