मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

लखनऊ। बरेली के शीशगढ़ में कुछ वहशियों ने घर में सो रही एक किशोरी को अगवाकर गन्ने के खेत में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। इसके बाद किशोरी को पंचायत भवन में बंद कर फरार हो गए। दोनों युवकों के खिलाफ कल मुकदमा दर्ज कराया गया है।

शीशगढ़ गाव निवासी मजदूर मीरगंज के सिंधौली में ईंट-भट्ठे पर काम करता है, जबकि परिवार शीशगढ़ के गाव में रहता है। उसकी पत्‍‌नी बुधवार रात को एक कमरे में बच्चों के साथ सो रही थी, जबकि 14 वर्षीय बेटी बगल के कमरे में सो रही थी। आधी रात के बाद गाव के ही दो युवक दीवार कूदकर घर में घुसे और तमंचा दिखाकर किशोरी को उठाकर गन्ने के खेत में ले गए। वहा दोनों ने किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म किया, फिर उसे गाव के पंचायत घर में बंद कर फरार हो गए। कल सुबह ग्रामीणों ने किशोरी के चीखने की आवाजें सुनीं तो उन लोगों ने पंचायत घर का दरवाजा खोल कर किशोरी को उसके घर पहुंचाया। किशोरी की मा ने शीशगढ़ थाने में सामूहिक दुष्कर्म की तहरीर दी है। पुलिस ने तहरीर के आधार पर पप्पू और भूरा के खिलाफ अगवा कर दुष्कर्म करने व जान से मारने की धमकी देने की रिपोर्ट दर्ज की है। पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल जाच के लिए भेजा है। रिपोर्ट दर्ज करने के बाद पुलिस आरोपियों को पकडऩे के लिए दबिश दे रही है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप