लखनऊ, जेएनएन। ढाई प्रतिशत मंडी शुल्क समाप्त किए जाने की मांग को लेकर उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के आह्वान पर राजधानी के सीतापुर रोड स्थित नवीन गल्ला मंडी में सोमवार को कुछ घंटे दुकानें बंद कर विरोध जताया गया। संगठन के प्रांतीय मीडिया प्रभारी योगेंद्र सिंह की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल ने मंडी सचिव संजय कुमार सिंह को अपराह्न डेढ़ बजे सीएम को संबोधित ज्ञापन दिया। इस दौरान मंडी में गल्ला व्यवसाय से जुड़ी 15 आढ़त बंद रहीं।  

इस मौके पर प्रवक्ता ने कहा कि केंद्र सरकार ने जब मंडी शुल्क को पूरे देश में समाप्त करते हुए प्रतिबंध लगा दिया है। लिहाजा कोई भी राज्य मंडी शुल्क के अलावा अतिरिक्त सरचार्ज या डेवलपमेंट सरचार्ज या अन्य कोई शुल्क नहीं ले सकता है। बावजूद इसके उत्तर प्रदेश के मंडी स्थलों के भीतर जो माल बेचा जा रहा है उस पर ढाई प्रतिशत मंडी शुल्क अलग-अलग चार्ज के रूप में लिया जा रहा है। इससे किसान, आढ़ती और खरीदार परेशान हैं। व्यापारियों ने इस शुल्क को समाप्त किए जाने की मांग की। ज्ञापन देने वालों में राहुल दवे, मंगल पांडेय, पवन रावत, आकाश कुमार, कुलदीप सिंह, राहुल सिंह आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस