सीतापुर, जागरण संवाददाता। बारिश के चलते गिरी दीवार के नीचे दबकर चार वर्षीय बालिका की मौत हो गई। तीन अन्य बच्चे भी घायल हुए। घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दीवार गिरने की सूचना पर तहसीलदार व अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। पहला ब्लाक के गांव नवाबपुर निवासी परागीलाल पुत्र रामसागर की चार वर्षीय बेटी शिवानी, पांच वर्षीय नंदनी, शिवांशी व आठ वर्षीय बेटा शुभम घर की दीवार पर रखे छप्पर के नीचे सो रहे थे। सुबह करीब सात बजे घर के बाहर लगा नीम का पेड़ गिरने से कच्ची दीवार ढह गई। छप्पर के नीचे सो रहे सभी बच्चे दीवार के नीचे दब गए। परिवारजन व ग्रामीण दीवार का मलबा हटाकर बच्चों को बाहर निकाल पाते इससे पहले ही शिवानी की मौत हो गई। अन्य तीन बच्चे घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

हादसे के समय घर में नहीं थी मांः सुबह जिस समय घर की दीवार की बच्चों की मां लीलावती शौच गई थी। घर पहुंची तो दीवार का मलबा हटाया जा रहा था। लीलावती भी मलबा हटाने में जुट गई। मासूम की मौत के बाद से उसका रो-रोकर बुरा हाल है। गांव में भी मातम का माहौल है। बताया जा रहा है कि घटना के समय पिता परागीलाल भी मौके पर नहीं था। 

मौके पर पहुंचे अधिकारी, हो रही पड़तालः घटना की सूचना पर तहसीलदार मनीष कुमार, कानूनगो संतोष कुमार व लेखपाल मौके पर पहुंचे। घायल बच्चों को अस्पताल भेजा गया और परिवार को आर्थिक सहायता दिलाने की प्रक्रिया शुरू की गई। तहसीलदार मनीष कुमार ने बताया कि बालिका के परिवारजन शव का पोस्टमार्टम कराने की बात से इंकार कर रहे है। परिवाजन को राजी करने का प्रयास किया जा रहा है। पोस्टमार्टम कराने के बाद ही आर्थिक सहायता दी जा सकती है।

Edited By: Vikas Mishra