लखनऊ, जेएनएन। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मंगलवार शाम अचानक सुलतानपुर रोड पहुंचे। यहां सपा सरकार के महत्वपूर्ण प्रोजेक्टों को देखा। साथ ही राज्य सरकार के बजट पर आमजन की प्रतिक्रिया भी ली। लोगों से बात करने के बाद अखिलेश यादव ने राज्य सरकार पर रोजगार और विकास की अनदेखी का आरोप भी लगाया।

चक गजरिया में अखिलेश यादव ने नौजवानों, व्यापारियों और कुछ कर्मचारी महिलाओं से संवाद किया। फिर कहा कि नौजवानों को रोजगार के नाम पर धोखा दिया गया है। जब राज्य में न तो निवेश हो रहा है और न उद्योग लग रहे हैं। रोजगार की कैसे उम्मीद की जा सकती है। किसानों को भी छलावा मिला है। व्यापारी समाज भी इस बजट से निराश हैं। चकगजरिया में महिलाओं से भी घरेलू बजट को लेकर अखिलेश यादव ने बात की।

स्टेडियम से लेकर पुलिस मुख्यालय तक देखा

पूर्व मुख्यमंत्री पुलिस मुख्यालय सिग्नेचर बिल्डिंग भी गए। यूपी डायल 100 सेवा, अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्टेडियम, अवध शिल्पग्राम प्रोजेक्ट भी देखे। यहां अखिलेश यादव ने कहा कि यह देखकर दुख हुआ कि जिस शान-ए-अवध बाजार का दिल्ली के कनॉट प्लेस की तरह का निर्माण कराया था। उसे भाजपा सरकार ने औने-पौने दामों पर बेच दिया है।

सपा सरकार ने इस क्षेत्र में संस्कृति विद्यालय और मातृ एवं शिशु अस्पताल भी बनाया। स्थानीय लोगों को रोजगार का अवसर देने के लिए अमूल प्लांट लगाया। इससे प्लांट में स्थानीय दूध की खपत होती और दुग्ध उत्पादकों की आय भी बढ़ती। इस प्लांट में स्थानीय तो उपेक्षित हैं गुजरात से लाए हुए कर्मचारी कार्यरत हैं। एचसीएल के बाहर कुल्हड़ में चाय भी पी। साथ ही जनेश्वर मिश्र पार्क भी पहुंचे।

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस