लखनऊ, जेएनएन।  बैंक ऑफ महाराष्ट्र से मकान और गाड़ी के नाम पर लोन लेकर जालसाजों ने 82 लाख का चूना लगाया। पुलिस ने मामले में नौ लोगों के खिलाफ गोमतीनगर, इंदिरानगर और कृष्णानगर थाने में मुकदमा दर्ज किया है।

इंस्पेक्टर गोमतीनगर राम सूरत सोनकर के मुताबिक विपुल खंड चार निवासी नीरज राय ने मकान के नाम पर वर्ष 2016 में बैंक से 28 लाख रुपये का लोन और कनौसी के शिव कुमार मिश्र ने 20 लाख का लोन लिया था। इसके बाद उन्होंने किस्त भी नहीं जमा की। उनके पते पर संपर्क किया गया तो वहां भी नहीं मिले। इसके बाद उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। वहीं, बैंक के प्रबंधक आरटी परुलेकर ने बताया कि खरगापुर के रघुराज सिंह ने चार साल पहले उनकी बैंक से कार के नाम पर लोन लिया था। जब गाड़ी के सर्वे के लिए उन्हें बुलाया गया तो वह नहीं पहुंचे न ही किस्त जमा की।

पड़ताल में पता चला कि गाड़ी भी बेच दी। वहीं, खुर्रमनगर के ओमप्रकाश वर्मा ने पत्नी सुनीता वर्मा के साथ वर्ष 2016 में मकान के नाम पर 24 लाख का लोन लिया था। किश्त नहीं जमा की। पड़ताल में पता चला कि मकान की जमीन किसी को बेच दी गई। उनके खिलाफ भी धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप