फीरोजाबाद, जेएनएन। विधानसभा चुनाव के पहले से शुरू हुई सैफई परिवार की रार अब लोकसभा चुनाव में चरम पर पहुंचेगी। रविवार को खुले मंच से दोनों तरफ से एलान हो गया। शिकोहाबाद के रामलीला मैदान ने शिवपाल यादव ने भतीजे के खिलाफ चुनाव लडऩे को ताल ठोंकी तो जसराना विस क्षेत्र से प्रो.रामगोपाल यादव ने एलान कर दिया कि वह यहां आ गए, तो हम भी जसवंतनगर जाएंगे और सभी प्रतिद्वंद्वियों का नाश करेंगे। यूपी के ताकतवर राजनीतिक परिवार के दो कद्दावर नेताओं प्रो.रामगोपाल यादव और शिवपाल सिंह यादव रविवार को अलग-अलग विस क्षेत्र की जनसभा में थे।

मैं फीरोजाबाद से चुनाव लड़ूंगाः शिवपाल

शिकोहाबाद में जनसभा में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) प्रमुख शिवपाल यादव ने बिना नाम लिए प्रोफेसर यादव पर जमकर हमला बोलते हुए परिवार में फूट के लिए जिम्मेवार ठहरा दिया। बोले, मैं आखिरी तक चाहता रहा कि फूट न हो, दिल्ली के चक्कर काटे। सबका सम्मान किया, प्रोफेसर को कभी जवाब नहीं दिया। शिवपाल ने कहा कि, मैं फीरोजाबाद से चुनाव लड़ूंगा। जनता से अपील कर डाली कि मुझे जिता देना और विरोधी की जमानत जब्त करा देना। उन्होंने अखिलेश यादव पर भी निशाना साधा और भावनात्मक अंदाज में पार्टी बनाने को मजबूरी बताया। बिना नाम लिए प्रोफेसर के भाजपा से रिश्ते साबित करने की कोशिश भी की।

सभी प्रतिद्वंद्वियों का करेंगे नाशः रामगोपाल

वहीं सभा स्थल से 40 किमी दूर जसराना के पैढ़त की जनसभा में सपा नेता प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने भी पलटवार किया। उन्होंने कहा कि, मैंने शिवपाल के क्षेत्र में कभी हस्तक्षेप नहीं किया़, अब वे यहां आ गए हैं तो मैं भी इटावा जसवंतनगर में हस्तक्षेप करूंगा। सभी प्रतिद्वंद्वियों का नाश किया जाएगा। भाजपा पर हमलावर होते हुए प्रोफेसर यादव ने कहा पीएम गुजरात से भी पर्चा भर दें, क्योंकि उनके यहां से हारने की आशंका है। सपा-बसपा गठबंधन पूरी सीटें जीतेगा। 

Posted By: Nawal Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप