लखनऊ, विधि संवाददाता। बैड ब्वायज मिलेनियर इंडिया नाम से चल रही डाक्यूमेंट्री सीरीज को लेकर नेटफ्लिक्स इंटरटेनमेंट सर्विसेज इंडिया के एलएलपी अभिषेक नाग व निक रीड तथा रीवा शर्मा पर मानहानि का मुकदमा दर्ज किया गया है। इन सभी को बतौर अभियुक्त मुकदमे के लिए तलब किया है। आरोप है कि इस डाक्यूमेंट्री सीरीज के जरिये सुब्रत राय की छवि पर दाग लगाया जा रहा है। मामले की अगली सुनवाई 15 नवंबर को होगी।

यह है मामला: शिकायतकर्ता का आरोप है कि पांच अक्टूबर, 2020 को विपक्षी गणों ने आपत्ति दर्ज कराने के बावजूद बैड ब्वायज मिलेनियर इंडिया नाम से एक डाक्यूमेंट्री सीरीज बनाकर यू-ट्यूब पर अपलोड कर दिया। इस डाक्यूमेंट्री में सुब्रत राय को विजय माल्या, नीरव मोदी व राजू के समानान्तर दिखाया गया है। इस डाक्यूमेंट्री को जान बूझकर सहारा का लोगो इस्तेमाल करते हुए बनाया गया है, ताकि इसकी कर्मशियल कीमत बढ़ाई जा सके। शिकायत में कहा गया है कि विपक्षीगणों ने इस कृत्य से सुब्रत राय की छवि पर दाग लगाने की कोशिश की गई है। जो मानहानि की श्रेणी में आता है। लिहाजा नेटफ्लिक्स के इन अधिकारियों को तलब कर दंडित किया जाए।

मानहानि के आपराधिक मामले में दाखिल शिकायत पर संज्ञान लेते हुए विशेष अदालत ने नेटफ्लिक्स इंटरटेनमेंट सर्विसेज इंडिया एलएलपी के अभिषेक नाग व निक रीड तथा रीवा शर्मा को बतौर आरोपी मुकदमे के विचारण के लिए तलब किया है। विशेष सीजेएम सुनील कुमार ने यह आदेश सहारा इंडिया ग्रुप ऑफ कम्पनीज व इसके असिस्टेंट मैनेजर दिनेश कुमार शुक्ला की ओर से दाखिल शिकायत पर दिया है। मामले की अगली सुनवाई 15 नवंबर को होगी।

पारा पुलिस ने वांछित को पकड़ा, जेल: पारा पुलिस ने पुराना थाना के पास से मारपीट, छेड़छाड़ व जानलेवा हमले में वांछित को गिरफ्तार किया है। पारा इंस्पेक्टर राजेश कुमार के मुताबिक नरपत खेड़ा निवासी सुरेश राजपूत को पुराना पारा थाना के पास से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

Edited By: Rafiya Naz