हरदोई, जेएनएन। देशभर में कोरोनावायरस के चलते किए गए लॉकडाउन की अपील के बावजूद कुछ लोग मानने को तैयार नहीं है। मंदिर, मस्जिद, गुरूद्वारा और चर्च सभी बंद करने की अपील की गई है। वहीं गुरुवार को  संडीला कस्बे में नियमों का उलंघन कर मस्जिद में सामूहिक रूप से नमाज अदा करने वालों पर पुलिस ने कार्रवाई की है। जिसमें इमाम समेत 101 के विरुद्ध एफआइआर दर्ज की गई है।

संडीला कस्बा चौकी इंचार्ज ओमप्रकाश सिंह ने बताया कि एक मुहल्ले में मस्जिद की देखरेख करने वाले इमाम ने तमाम लोगों को नमाज के लिए बुलाया है और वह लोग मस्जिद में मौजूद हैं। पूरे देश में लाॅकडाउन होने व धारा 144 लागू होने के कारण 5 से ज्यादा लोगों का एकत्रित होना निषेध है। सूचना मिलने पर जब पुलिस मौके पर पहुंची तो देखा कि मस्जिद में इमाम के अलावा 100 लोग नमाज अता फरमा रहे थे। इतनी अधिक संख्या में लोग एक साथ एकत्र होने पर संक्रमण का खतरा है तथा यह धारा 188 अधिनियम 1897 की धारा 3 का उल्लंघन है। चौकी इंचार्ज द्वारा एफआइआर दर्ज कराई गई है।

घरों से ही अदा करें जुमे की नमाज

जुमा की नमाज को घर से ही अदा करने की अपील की गई है। हरदोई की अंजुमन इस्लामियां के सदर मोहम्मद खालिद तथा जामा मस्जिद अंजुमन इस्लामियां के इमाम व खतीब मुफ्ती आफताब आलम मजाहरी ने बताया कि जुमे की नमाज घरों से ही अदा करें। मस्जिद में सिर्फ पांच लोग ही नमाज अदा करें। सभी लोग प्रशासन के नियमों का पालन करें। वहीं संडीला के मदरसा गौसिया के मौलाना मेहंदी हसन ने कहा कि जुमा की नमाज की बजाय लोग घरों में जौहर की नमाज अदा करें। परचमे मोहम्मदी के अध्यक्ष फरीउदुद्दीन ने कहा कि जुमे की नमाज को मस्जिदों में होने वाली इस्लामी जलसा पर पूरी पाबंदी रहेगी। उन्होंने रोजाना खाकर कमाने वालों की मदद करने को भी कहा है। मुफ्ती कादिर नदवी ने कहा है कि हाथों की सफाई के साथ घरों की सफाई रखें।

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस