लखनऊ, जेएनएन। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण पर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के प्रयास पर अक्सर ही हमला बोलने वाली कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव तथा उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने अब पत्र लिखा है। प्रियंका गांधी ने नौ अप्रैल को लिखे दो पेज के पत्र में सीएम योगी आदित्यनाथ को चार बिंदुओं में सलाह दी है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा था। कोरोना वायरस के बढ़ते संकट के बीच इस पत्र में प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश सरकार को कुछ सुझाव भी दिए हैं। उन्होंने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की तरह ही कोरोना वायरस के चलते उत्तर प्रदेश में कोरोना सैंपल टेस्टिंग बढ़ाने का सुझाव दिया है। इसके साथ ही प्रदेश में मौजूद क्वारनटीन सेंटर्स की बदहाली पर भी कई सवाल भी खड़े किए हैं।

प्रियंका गांधी वाड्रा इससे पहले ट्विटर से वीडियो या फिर मैसेज से कोरोना वायरस से निपटने के तरीके को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार पर लगातार हमला करती रही हैं।

उन्होंने पत्र में चार बिंदुओं में इस बार सुझाव भेजा है।

1. उत्तर प्रदेश में संख्या काफी ज्यादा है, ऐसे में यहां पर कोरोना के लिए टेस्टिंग की संख्या बढ़ाए जाने की जरूरत है। अभी 23 करोड़ की जनसंख्या वाले प्रदेश में सिर्फ 7 हजार टेस्ट हुए हैं। प्रियंका गांधी वाड्रा ने सीएम योगी आदित्यनाथ को दक्षिण कोरिया और कांग्रेस शासित प्रदेश राजस्थान के भीलवाड़ा का उदाहरण भी दिया।

2. प्रदेश में कई जगह क्वारनटीन सेंटर में बदहाली की खबर आ रही हैं, जहां पर खाने, रुकने और सफाई की व्यवस्था नहीं है। रुक रहे लोगों को भोजन-राशन और भत्ता दिया जाए।

3. प्रदेश में युद्ध स्तर पर मास्क और सैनिटाइजर बांटे जाएं, लोगों को उनकी उपलब्धता की जानकारी दी जाये।

4. सरकार एनजीओ, सामाजिक संगठन और राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं से विचार-विमर्श कर उनकी मदद ले। कांग्रेस इसके लिए पूरी तरह से तैयार है।

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भरोसा दिलाया कि कांग्रेस पार्टी का कार्यकर्ता इस लड़ाई में उनके साथ है।

 

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस