लखनऊ, जेएनएन। चीन से निकले जानलेवा कोरोना वायरस के संक्रमण के खिलाफ उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार का जोरदार संघर्ष जारी है। सरकार ने इस संघर्ष में लगे कोरोना वॉरियर्स के हित को लेकर बड़ी सराहनीय पहल की है। 

प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के के खिलाफ चल रहे संघर्ष में डॉक्टर, मेडिकल स्टाफ, पुलिस, प्रशासन व सफाई कर्मी अपने जीवन की चिंता किए बिना जुटे हैं। केंद्र सरकार ने कोरोना के इलाज और बचाव की ड्यूटी में लगे कर्मियों का बीमा कराने की घोषणा की है। इसके साथ ही प्रदेश सरकार ने इस कार्य में लगे सभी कर्मियों को भी 50 लाख का बीमा दिए जाने की सहमति दी है।

मुख्य सचिव आरके तिवारी ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश मिल चुके हैं। इस संबंध में जल्द ही आदेश जारी किया जाएगा। वहीं, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने ट्वीट कर जानकारी दी कि मुख्यमंत्री ने पुलिसकर्मियों को 50 लाख का बीमा करने का आदेश दे दिया है। जल्द इसके लिखित आदेश जारी हो जाएंगे। 

सोशल डिस्टेंसिंग के पालन की लगातार अपील कर रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को ट्वीट कर लोगों से फिर यह अनुरोध किया। उन्होंने ट्वीट किया- आज विश्व स्वास्थ्य दिवस है। पूरे विश्व के सामने एक विकराल स्वास्थ्य चुनौती है और इस परिस्थिति में मैं प्रभु श्रीराम से हम सबके बेहतर स्वास्थ्य की कामना करता हूं। हम सब उन सभी स्वास्थ्यकर्मियों, डॉक्टरों व नर्सों के हृदय से ऋणी हैं, जो पूरी निष्ठा से निरंतर मानवता की सेवा में रत हैं।

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा- मेरी आप सबसे एक बार फिर से अपील है कि इस वैश्विक महामारी कोरोना से लड़ने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। सफाई बरतें और घर में रहें। आज के दिन सभी को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करें, जिससे हम नए भारत, स्वस्थ भारत के निर्माण में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर सकें।

योगी ने यह भी लिखा कि लॉकडाउन की यह कार्यवाही 130 करोड़ लोगों के उत्तम स्वास्थ्य और सुरक्षित भविष्य के लिए महत्वपूर्ण है। सभी लोग लॉकडाउन के अनुशासन को स्वीकार करें और सरकार के कदम से कदम मिलाकर आगे बढ़ें। प्रदेश में किसी को किसी प्रकार की परेशानी न हो, इसके लिए सरकार आवश्यक व्यवस्था कर रही है।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस