लखनऊ, राज्य ब्यूरो। किसानों को अपनी प्राथमिकता बताने वाली भाजपा सरकार ने बाढ़ प्रभावित किसानों के लिए तत्काल मुआवजा भी आवंटित कर दिया है। कृषि निवेश अनुदान के तहत 7788.96748 लाख रुपये पहले ही जारी किए जा चुके हैं। राजस्व विभाग की ओर से अब तक 33 जिलों के एक लाख 51 हजार 509 किसानों के लिए राज्य आपदा मोचक निधि से कुल 50 करोड़ 85 लाख 84 हजार 545 रुपये आवंटित कर दिए हैं। अपर मुख्य सचिव राजस्व मनोज कुमार सि‍ंह की ओर से शनिवार को इसका शासनादेश जारी किया गया। इसमें कहा गया है कि वर्ष 2021-22 में बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुई फसलों का विवरण जिलों से लिया गया है।

इसी डाटा के आधार पर 35 जिलों के कुल 2,35,122 किसानों को कृषि निवेश अनुदान वितरित करने के लिए गत दिवस 7788.96748 रुपये आवंटित किए गए। इसके अलावा बाढ़ मद में 50,85,84,545 रुपये स्वीकृत किए गए हैं। इस राहत राशि का भुगतान जिला कोषागार से सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में ई-पेमेंट के माध्यम से किया जाएगा। शासन ने निर्देश दिया है कि राज्य आपदा मोचक निधि से दी जा रही इस राहत राशि वितरण की सूची ग्राम सभा के नोटिस बोर्ड पर चस्पा की जाए। ग्राम सभा की खुली बैठक में इसे बढ़कर सुनाया भी जाए। जिला स्तर पर इसका लेखा-जोखा रखा जाए।

इन जिलों के हैं किसान : सिद्धार्थनगर, गोरखपुर, झांसी, ललितपुर, गाजीपुर, मीरजापुर, वाराणसी, महराजगंज, अंबेडकरनगर, कुशीनगर, मऊ, बलरामपुर, बलिया, खीरी, बाराबंकी, श्रावस्ती, देवरिया, बिजनौर, हमीरपुर, बहराइच, चंदौली, बस्ती, जालौन, आगरा, चित्रकूट, सुल्तानपुर, संतकबीरनगर, गोंडा, कानपुर देहात, प्रतापगढ़, सीतापुर, बांदा और औरैया।

Edited By: Anurag Gupta