लखनऊ [दुर्गा शर्मा]। वन लाइफ, लिव इट अप बिकॉज वी गॉट वन लाइफ.. वन लाइफ, वन ड्रीम, वन मूवमेंट, वन टीम.. फीफा विश्व कप-2018, रूस का यह थीम सांग फुटबॉल प्रेमियों की जुबां पर है। फेवरेट टीम और खिलाड़ी को सपोर्ट करते संदेशों की भी कमी नहीं है। रूस में आज से शुरू हो रहे फुटबॉल के महाकुंभ को लेकर शहर में उत्साह है। खेल प्रेमी तैयार हैं। फिलहाल आज से एक महीने तक दुनिया 'फुटबॉल' है। आप भी इस दुनिया का लुत्फ उठाइए। किताबों में फुटबॉल की दुनिया

हजरतगंज स्थित यूनिवर्सल बुक स्टोर में फीफा-2018 के साथ ही विश्व कप के इतिहास को समेटे कई किताबें मौजूद हैं। फुटबॉल की मूलभूत जानकारियों और खेल की खासियत को बयां करतीं किताबें भी लोग खरीद रहे हैं। अंग्रेजी के साथ-साथ ¨हदी में भी किताब है। साथ ही रोनाल्डो, बेकहम और नेमार समेत अन्य फुटबॉल खिलाड़ियों पर केंद्रित किताबें भी पसंद की जा रही हैं।

कुछ किताबें

फॉर द लव ऑफ फुटबॉल (जॉनी मॉर्गन) : ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ फुटबॉल, लैंग्वेज ऑफ फुटबॉल, द व‌र्ल्ड कप, वी आर नॉट द चैंपियंस, ग्रेट फुटबॉलिंग राइवल्रीज, द डार्क साइड ऑफ द बॉल, फुटबॉल स्कैंडल्स, नथिंग टू सी हेयर और फेमस फुटबॉलिंग नो-शोज समेत अन्य विषय इसमें शामिल हैं।

फुटबॉल (डॉ. अनिल कुमार) : स्पो‌र्ट्स पब्लिकेशन्स की यह किताब ¨हदी में मौजूद है। किताब में खेलकूद से संबंधित छात्रों, प्रशिक्षकों और सामान्य पाठकों के लिए बहुत कुछ है। फुटबॉल-परिचय तथा इतिहास, फुटबॉल के मूलभूत कौशल और तकनीक और नियमों को इसमें शामिल किया गया है।

फुटबॉल व‌र्ल्ड कप 1930-2018 (एक्जेल) : चित्रों के जरिए फुटबॉल विश्व कप के सफर को तय किया गया है। बेस्ट मूवमेंट, खिलाड़ी और गोल आदि के बारे में कैरीकेचर के जरिए बताया गया है।

एन इंफोग्राफिक गाइड टू फुटबॉल : फेमस नेशनल टीम, वूमेन्स व‌र्ल्ड कप, यूरोपियन चैंपियनशिप, इंग्लिश प्रीमियर लीग, गोल स्कोरर और गोल कीपर समेत अन्य विषय इसमें शामिल हैं।

कोपा 90 द वॉयस ऑफ फुटबॉल फैन्स : टॉप टेन व‌र्ल्ड कप कंट्रोवर्सीज के साथ ही अन्य बातें किताब को रोचक बनाती हैं।

द फुटबॉल फैनेटिक एसेंशियल गाइड : फिक्सचर्स एंड रिजल्ट 1930-2014, एपिक मैचेज एंड अपसेट्स और हीरोज एंड लेजेंड्स विषयों पर लिखा गया है।

वॉट वी थिंक अबाउट वेन वी थिंक अबाउट फुटबॉल (सिमोन क्रिचली) : इसमें एक दार्शनिक के नजरिए से फुटबॉल के विविध आयामों को तराशा गया है।

क्लासिक फुटबॉल हीरो बेकहम के साथ ही क्रिस्टियानो रोनाल्डो और नेमार समेत अन्य खिलाड़ियों पर केंद्रित किताबें भी खास हैं। अभिभावकों को भी आ रहा पसंद

यूनिवर्सल बुक स्टोर के ओनर चंद्र प्रकाश ने बताया कि फीफा-2018 के प्रति लोगों के रुझान को देखते हुए फुटबॉल स्पेशल कलेक्शन रखा है। युवाओं के साथ-साथ अभिभावक भी कलेक्शन को पसंद कर रहे हैं। देशों को सपोर्ट करती जर्सी

एशिया, अफ्रीका, उत्तर अमेरिका, दक्षिण अमेरिका और यूरोप की 32 टीमें फीफा में जोर आजमाइश करेंगी। फुटबॉल प्रेमी अपनी फेवरेट टीम को सपोर्ट करने के लिए तैयार हैं। विभिन्न देशों के नाम वाली जर्सी और स्टाकिंग्स समेत तमाम सामग्री बाजार में मौजूद है। कॉलर ट्यून बना ऑफीशियल सांग

फीफा का ऑफीशियल सांग फुटबॉल प्रेमियों के मोबाइल का कॉलर टोन बन गया है। 'यूनिटी इज विक्ट्री' समेत कई स्लोगन के साथ सोशल मीडिया पर फीफा से जुड़े मैसेज चल रहे हैं। फेवरेट प्लेयर की फोटो वाट्सएप और फेसबुक वॉल पर छाई है। वीडियो और लिंक शेय¨रग भी खूब हो रही। डाक टिकट भी हुए हैं जारी

फीफा-2018 को लेकर रूस ने डाक टिकटों का सेट जारी किया है। फीफा विश्व कप 2014 को लेकर 12 जून 2014 को चार डाक टिकटों को सेट जारी किया गया था। आइ लव फुटबॉल

कैंट निवासी 13 वर्षीय अखिलेश चौहान एक साल से फुटबॉल सीख रहे हैं। मानसरोवर फुटबॉल क्लब कीे ओर से खेलते हैं। बताते हैं, स्कूल की छुट्टियों के दौरान फीफा का होना मजे को दोगुना कर देता है।

14 वर्षीय प्रतिनव पाठक कहते हैं, फुटबॉल स्टेमिना और स्पीड का गेम है इसलिए मुझे पसंद है। यह हमें फिट रखता है। मैं पुर्तगाल की टीम को सपोर्ट करूंगा। फेवरेट प्लेयर रोनाल्डो हैं।

अलीगंज निवासी 17 वर्षीय आदित्य तीन साल से फुटबॉल सीख रहे हैं। कहते हैं, फीफा में इंडियन टीम का ना होना खलता है। मैं अर्जेटीना की टीम को सपोर्ट करूंगा।

दो साल से फुटबॉल सीख रहे कैंट निवासी 13 वर्षीय आशुतोष कुमार कहते हैं, शुरू से ही स्पो‌र्ट्स का शौक रहा है। रोजाना ग्राउंड प्रैक्टिस के लिए ला मार्टिनियर आते हैं। मेरी पसंदीदा टीम पुर्तगाल है।

By Jagran