लखनऊ, जेएनएन। Festival Special: त्योहार से पहले रेलवे यात्रियों को रेल प्रशासन राहत देने की तैयारी में है। स्टेशनों पर मौजूद रिटायरिंग रूम, डॉरमैट्री, लाउंज का लाभ पहले की तरह लेते हुए दिखेंगे। इसको लेकर रेलवे प्रशासन ने मंथन शुरू कर दिया है। यात्रियों को देने से पहले किन गाइडलाइनों का पालन किया जाए और उक्त स्थानों का इस्तेमाल करने के बाद उनकी सफाई और किन बातों का ध्यान रखा जाए। उसको लेकर मुख्यालय स्तर पर रेलवे तैयारी कर रहा है। 

चारबाग स्टेशन, लखनऊ जंक्शन जैसे स्टेशनों पर हर दिन हजारों रुपये सिर्फ रिटायिरंग रूम, डारॅमैट्री से रेलवे कमाता था, अब यह महीनों से बंद है। यहां कार्यरत कर्मियों को दूसरे कामों में लगा दिया गया है। एक बार फिर से स्टेशनों पर कमरे यानी रिटायरिंग रूम घंटे के हिसाब से बुक करने की तैयारी है। वहीं डारमैट्री में एक एक बिस्तर छोड़कर आवंटित किए जाने को लेकर वाणिज्य शाखा के अफसरों ने अपने सुझाव दिए हैं। यही नहीं जिस यात्री को आवंटित किया जाएगा, उसकी थर्मल स्कैनिंग व सैनिटाइज करने के बाद दिया जाए। 

यही नहीं यात्री का पूरा विवरण भी टिकट के साथ दर्ज करना होगा। क्योंकि ट्रेनों की संख्या रेलवे हर सप्ताह स्पेशल ट्रेन के रूप में बढ़ा रहा है। इसके मद्देनजर उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल व पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल अपने स्टेशनों पर यह सुविधा शुरू करने पर विचार कर रहा है। हालांकि निर्णय दिल्ली से होना है। स्थानीय स्तर पर इसकी तैयारी पूरी कर ली गई है। वहीं आदेश आते ही ऑनलाइन बुकिंग शुरू कर दी जाएगी।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस