लखनऊ, संवादसूत्र। बीकेटी तहसील क्षेत्र के कपासी गांव के एक किसान की अवैध खनन में संलिप्त जेसीबी ने जान ले ली। इसी गांव के मजरा बेलहा निवासी किसान अवध हास्पिटल के निकट अपने खेत की मवेशियों से रखवाली कर रहा था। देर रात जेसीबी चालक ने उसे रौंद दिया और वाहन छोड़कर वह भाग निकला। घायल किसान को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया।

बीकेटी तहसील के गुडंबा थाना क्षेत्र में यह घटना देर रात की बताई जा रही है। इसी थाना क्षेत्र के कपासी ग्राम पंचायत के मजरा बेलहा निवासी किसान छत्रपाल अपने खेत की रखवाली कर रहे थे। बताया जाता है अवैध खनन की सूचना पर राजस्व और खनन विभाग की टीम छापा मारने गई थी।

टीम की खबर पता चल जाने से अवैध खनन में लगे जेसीबी का चालक लाइट बंद करके उसे लेकर भागने लगा। जेसीबी की लाइट बंद होने के कारण अंधेरे में जेसीबी खेत में सो रहे किसान पर चढ़ गया। किसान की आवाज सुनकर चालक जेसीबी छोड़कर भाग निकला। घायल किसान को गुड़ंबा क्षेत्र के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया।

मृतक के लड़के विवेक रावत के मुताबिक उसके पिता रोजाना कि तरह शाम को खेत गए हुए थे। रात करीब दो बजे के आसपास उनको जेसीबी ने रौंद दिया। जानकारी होने पर उन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन देर हो चुकी थी जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। मृतक के परिवार में तीन लड़के विवेक, अंकित व सचिन हैं। जेसीबी कपासी के मजरा गोयतीपुरवा निवासी कुलदीप यादव की बताई जा रही है। मृतक के लड़के विवेक द्वारा गुडंबा थाने पर घटना की रिपोर्ट दर्ज करने के लिये तहरीर दी गई है।

गुडंबा के इंस्पेक्टर ने बताया शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया गया था। घटना की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। वहीं एसडीएम गोविन्द मौर्या ने बताया घटना की जानकारी मिलने के बाद राजस्व निरीक्षक को जांच के लिये भेजा गया‌। मृतक के परिजनों को किसान दुर्घटना बीमा योजना के तहत पांच लाख रुपये की धनराशि दी जायेगी।

Edited By: Anurag Gupta