लखनऊ, जेएनएन। देश की पहली कॉरपोरेट तेजस क्लास ट्रेन शुक्रवार को पहले ट्रायल रन में पास हो गई है। लखनऊ जंक्शन से गोरखपुर की करीब 27९ किमी की दूरी 4:10 घंटे में पूरी कर ली। यह ट्रेन आइआरसीटीसी तेजस एक्सप्रेस के नाम से चलेगी। चार अक्टूबर को तेजस स्पेशल चलेगी जबकि नियमित रूप से आइआरसीटीसी तेजस एक्सप्रेस छह अक्टूबर से रवाना होगी। आइआरसीटीसी ने किराया तय करके इसकी बुकिंग शुरू कर दी। वापसी में डिनर मिलेगा जिस कारण किराया अधिक होगा। देखते ही देखते दीपावली से पहले 26 अक्टूबर की बुकिंग शुरू हो गई। 

जर्मन तकनीक लिंक हॉफमैन बुश (एलएचबी) बोगियों वाली तेजस क्लास ट्रेन सुबह 6:50 बजे लखनऊ जंक्शन से रवाना हुई। ट्रेन 7:10 बजे डालीगंज पहुंची तो इसे रोका गया। यहां गार्ड ने बटन दबाकर बोगियों के गेट खोलकर चेक किए। फिर ट्रेन आगे बढ़ गई। गोमतीनगर होते हुए टे्रन बाराबंकी आउटर पर पहुंची। ट्रेन में डब्ल्यूएलपी7 श्रेणी का इंजन लगाया था, जिसने 110 किलोमीटर प्रति घंटे की क्षमता वाले लखनऊ-गोरखपुर रूट पर इतनी स्पीड को आसानी से छू लिया। 

यह फीचर किए गए चेक 

  • हर बोगी में लगे दरवाजे के सेंसर की जांच की गई। सेंसर काम करते हुए मिले
  • डस्टबिन करीब आते ही सेंसर से खुद ही खुल गई
  • बायो टॉयलेट, सेंसर लगे नल, सोप डिस्पेंसर, म्यूजिक सिस्टम और हर बोगी में लगे छह सीसीटीवी को जांचा गया
  • पॉवर कार से हर बोगी में लगी फायर डिटेक्शन डिवाइस और सेंट्रल मॉनीटर‍िंंग सिस्टम को परखा
  • बटन से खिड़की के पर्दे को गिराने सहित सभी पहलुओं की जांच हुई
  • धुएं के समय ऑटोमेटिक स्मोक सिस्टम को जांचा
  • चेन की जगह इमरजेंसी में ट्रेन रोकने के हैंडल के फंक्शन भी देखे
  • यात्रियों को पढऩे के लिए लगी रीडिंग लाइट, विमान की तरह अटेंडेंट को बुलाने के लिए लगे बटन दबाकर देखे
  • ट्रेन के पावर कार में लगे सुरक्षा उपकरणों को भी देखा गया
  • पब्लिक इंफारमेशन बोर्ड पर जानकारी का डिस्पले मिला
  •  

ट्रायल की एक और औपचारिकता 

चार अक्टूबर को संचालन से पहले तेजस एक्सप्रेस का एक बार और ट्रायल किया जाएगा। यह अंतिम ट्रायल होगा, जिसके बाद तेजस को चलाने के लिए क्लीयरेंस देकर रेलवे इस रैक को आइआरसीटीसी को सौंप देगा। 

सीएम करेंगे उदघाटन

चार अक्टूबर को तेजस स्पेशल ट्रेन सुबह 9:30 बजे लखनऊ से चलकर कानपुर 10:40 बजे, गाजियाबाद दोपहर 3:03 बजे हाते हुए नई दिल्ली शाम चार बजे पहुंचेगी। इस ट्रेन का उदघाटन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे। 

तेजस चेयरकार का दिल्ली तक किराया 1125

आइआरसीटीसी के मुख्य क्षेत्रीय प्रबंधक अश्विनी श्रीवास्तव ने बताया कि लखनऊ से नई दिल्ली का एसी चेयरकार का शुरुआती किराया 1125 रुपये होगा। जिसमें बेस फेयर 895, जीएसटी 45 रुपये और कैटर‍िंंग  चार्ज 185 रुपये होगा। जबकि नई दिल्ली से लखनऊ आने वाली ट्रेन का एसी चेयरकार का शुरुआती किराया 1280 रुपये होगा। वापसी के किराए में कैटङ्क्षरग चार्ज 340 रुपये होगा। यात्रियों को ट्रेन में डिनर भी मिलेगा। वहीं एक्जक्यूटिव क्लास का नई दिल्ली से लखनऊ का किराया 2450 रुपये और लखनऊ से नई दिल्ली का किराया 2310 रुपये होगा।  

कम है तेजस का किराया

चार अक्टूबर को शताब्दी एक्सप्रेस का चेयरकार का किराया 1180 रुपये चल रहा है। जबकि तेजस स्पेशल का यह किराया 1125 रुपये है। वहीं तेजस स्पेशल का एक्जक्यूटिव क्लास का लखनऊ से नई दिल्ली का किराया 2310 रुपये है। शताब्दी एक्सप्रेस में अनुभूति कोच का किराया 2255 रुपये चल रहा है। इस लिहाज से तेजस के यात्रियों को 55 रुपये ज्यादा देने होंगे। 

यह होगा तय समय

नियमित रूप से तेजस मंगलवार को छोड़कर सप्ताह में छह दिन सुबह लखनऊ जंक्शन से सुबह 6:10 बजे चलकर कानपुर 7:20 बजे, गाजियाबाद 11:45 बजे होते हुए नई दिल्ली 12:25 बजे पहुंचेगी। जबकि वापसी में नई दिल्ली से दोपहर 3:35 बजे चलकर गाजियाबाद शाम 4:0९ बजे, कानपुर रात ८:35 बजे और लखनऊ जंक्शन रात 10:05 बजे पहुंचेगी। 

यह भी पढ़ें : मुलायम की मर्सडीज एसयूवी में आई खराबी, टोयोटा प्राडो हो सकती है अगली सवारी 

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप