रायबरेली, जेएनएन। शनिवार की सुबह एक युवक इंटरसिटी एक्सप्रेस के इंजन में चढ़ गया और उसे बंद कर दिया, जिससे रेल कर्मियों के हाथ पैर फूल गए। किसी तरह पकड़ कर उसे इंजन से बाहर लाया गया। सूचना पर पहुंची आरपीएफ उसे अपने साथ ले आई। 

गाड़ी संख्या 14123 इंटरसिटी एक्सप्रेस प्रतापगढ़ से कानपुर जा रही थी। सुबह करीब साढ़े छह बजे ट्रेन रायबरेली से लखनऊ के लिए निकली थी। इसी बीच गंगागंज स्टेशन के पूर्वी केबिन के पास अचानक ट्रेन रुक गई। लोको पायलट व उसके सहायक ने इसकी छानबीन शुरू की। देखा कि इंजन के दूसरे केबिन में एक सिरफिरा युवक चढ़ा है। यह देख कर्मचारियों के हाथ पैर फूल गए। कर्मचारियों ने किसी तरह पकड़ कर उसे पकड़ कर गेट मैन के केबिन में बंद किया। इसके बाद सूचना आरपीएफ को दी गई। रेलवे की पुलिस पहुंची और युवक को अपने साथ रायबरेली स्टेशन स्थित थाने ले आई। पुलिस के मुताबिक युवक मंदबुद्धि है। 

दंग रह गए स्टेशन के अधिकारी: गंगागंज रेलवे स्टेशन पर अधिकारी और कर्मचारी उस वक्त दंग रह गए, जब सिग्नल होने के बाद भी ट्रेन खड़ी हो गई। आनन-फानन सब दौड़ कर मौके पर पहुंचे। जब माजरा पता चला तो और भी पसीने छूट गए। गनीमत तो यह रही कि ट्रेन की रफ्तार कम थी। वरना, अचानक ब्रेक लगाने से कोई भी हादसा हो सकता था। गंगागंज स्टेशन अधीक्षक मेराज अहमद ने बताया कि इंजन पर युवक चढ़ा था। उसे उतारने के बाद ट्रेन रवाना कर दी गई।

 

वहीं, जीआरपी मामले की जांच कर रही है। वहीं,  20-25 मिनट चले हंगामें के बाद ट्रेन को लखनऊ के लिए रवाना कर दिया गया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस