अयोध्या, संवाद सूत्र। जिले में अपराधियों का दुस्साहस इतना बढ़ गया है कि अब मंदिर में रखे भगवान भी सुरक्षित नहीं रह गए हैं। बीकापुर में खपरडीह रियासत के मंदिर से अपराधियों ने अष्टधातु की आठ प्राचीन मूर्तियां पार कर दीं। चोरी हुई मूर्तियां काफी पुरानी हैं, जिनकी कीमत करोड़ों में होने का अनुमान लगाया गया है। जिले लंबे समय बात मंदिर से मूर्ति चोरी का मामला सामने आया है। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर छानबीन की। पुजारी से घटना के बारे में विस्तार से जानकारी ली गई। फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड की भी मदद जांच में ली गई। मंदिर से नौ प्रतिमाएं चोरी की गईं थीं, लेकिन एक प्रतिमा मंदिर में ही छूट गई। 

अपराधियों ने मंदिर में रखी पत्थर की मूर्तियों को हाथ तक नहीं लगया। मंदिर के पुजारी सोभनाथ तिवारी ने बताया कि सुबह मंदिर में पूजा पाठ करने के लिए मुख्य गेट का ताला खोल कर वह मंदिर के अंदर पहुंचे तो देखा कि गर्भगृह के दरवाजे पर लगा ताला टूटा हुआ था। मंदिर के अंदर रखी अष्टधातु की मूर्तियां गायब थी। इसकी सूचना पुजारी ने तत्काल यूपी 112 पर दी। जानकारी होते ही बड़ी संख्या में फोर्स मौके पर पहुंच गई। गांव वालों का भी जमावड़ा मंदिर के बाहर लग गया। छानबीन के दौरान किसी को भी पुलिस ने मंदिर के अंदर जाने नहीं दिया। चोरी हुई मूर्तियों में भगवान राम, माता सीता, हनुमान, कृष्ण और अन्य देवी देवताओं की प्रतिमाएं शामिल हैं। पुजारी का कहना है कि लगभग 15 वर्ष पहले भी इस मंदिर से भगवान राम, जानकी, लक्ष्मण एवं हनुमान जी की एक फुट ऊंची अष्टधातु की मूर्तियां चोरी हो गई थी, जिसका आजतक राजफाश नहीं हो सका है। थाना प्रभारी अश्विनी मिश्र का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। चोर जल्द ही पुलिस की पकड़ में होंगे। 

Edited By: Vikas Mishra